पाकिस्तान में जारी राजनैतिक संकट

पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को सरकारी टीवी चैनल की इमारत से निकाला।

  • News Code : 635020
  • Source : ईरान रेडियो
Brief

पाकिस्तान में जारी राजनैतिक संकट के बीच पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को सरकारी टीवी चैनल की इमारत से निकाल दिया है और उसका प्रसारण बहाल हो गया है। कुछ समय के लिए पीटीवी न्यूज़ पर सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों का क़ब्ज़ा हो गया था जिसके बाद उसे सेना के हवाले कर दिया गया है।

अबनाः पाकिस्तान में जारी राजनैतिक संकट के बीच पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को सरकारी टीवी चैनल की इमारत से निकाल दिया है और उसका प्रसारण बहाल हो गया है। कुछ समय के लिए पीटीवी न्यूज़ पर सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों का क़ब्ज़ा हो गया था जिसके बाद उसे सेना के हवाले कर दिया गया है।
सोमवार को प्रदर्शनकारी पहले सचिवालय में और उसके बाद सरकारी टीवी चैनल के दफ्तर में भी घुस गए हैं और उसका प्रसारण बंद करवा दिया था।
इसके बाद पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ पार्टी के नेता इमरान ख़ान और मौलवी ताहिरुल क़ादरी ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वो किसी भी सरकारी इमारत में न घुसें।
पिछले अड़तालीस घंटे में पाकिस्तान तहरीके इन्साफ़ और पाकिस्तान अवामी लीग के सरकार विरोधी प्रदर्शन ने अपना रूप बदलते हुए इस्लामाबाद के रेड ज़ोन क्षेत्र को रणक्षेत्र बना दिया जिसमें कम से कम 3 व्यक्ति हताहत और सैकड़ों घायल हुए।
नवाज़ शरीफ़ के इस्तीफ़े की मांग को लेकर इस्लामाबाद में सरकारी कार्यालयों के बाहर धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों ने कि जिनके हाथ में डंडे और चेहरे पर गैस मास्क थे, पुलिस के घेरे को तोड़ने की कोशिश की।
इस्लामाबाद में प्रदर्शन के हिंसक होने और संकट के संबंध में सेना के ताज़ा बयान की पृष्ठिभूमि में, सोमवार को दोपहर बाद प्रधान मंत्री कार्यालय में नवाज़ शरीफ़ और इस देश के चीफ़ आफ़ आर्मी स्टाफ़ जनरल राहील शरीफ़ के बीच बैठक हुयी।
सूत्रों के अनुसार चीफ़ आफ़ आर्मी स्टाफ़ जनरल राहील शरीफ़ ने इस देश के राजनैतिक संकट के मद्देनज़र रविवार को कोर कमान्डर की बैठक में हुयी चर्चा के संबंध में पाकिस्तानी प्रधान मंत्री नवाज़ शरीफ़ को विश्वास में लिया।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1441 / 2020
conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं