$icon = $this->mediaurl($this->icon['mediaID']); $thumb = $this->mediaurl($this->icon['mediaID'],350,350); ?>

ईरान फ़ार्स खाड़ी में अमरीका का फ़ौजी जहाज़ रास्ता बदलने पर मजबूर।

  • News Code : 777725
  • Source : अबना
Brief

अमेरीकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने दावा किया है कि फ़ार्स की खाड़ी में आईआरजीसी का एक जहाज़, अमेरीका के एक सैनिक जहाज़ के बिल्कुल क़रीब पहुंच गया था जिसके चलते अमेरीकी जहाज़ को अपना रास्ता बदलना पड़ा।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: अमेरीकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने दावा किया है कि फ़ार्स की खाड़ी में आईआरजीसी का एक जहाज़, अमेरीका के एक सैनिक जहाज़ के बिल्कुल क़रीब पहुंच गया था जिसके चलते अमेरीकी जहाज़ को अपना रास्ता बदलना पड़ा। पेंटागन के दो अधिकारियों ने अपना नाम सामने न लाए जाने की शर्त पर बताया कि चार सितम्बर को फ़ार्स की खाड़ी के केंद्रीय क्षेत्र में इस्लामी रिवाल्यूशन सुरक्षा बल आईआरजीसी का एक जहाज़ सीधे अमेरीका के गश्ती जहाज़ यूएसएस फ़ायरबोल्ट की तरफ़ बढ़ने लगा और उससे 90 मीटर की दूरी तक पहुंच गया था। उन्होंने कहा कि ईरानी जहाज़ की यह हरकत असुरक्षित और ग़ैर पेशेवराना थी। पेंटागन के इन अधिकारियों ने दावा किया कि अमेरीकी जहाज़ ने तीन बार आईआरजीसी के जहाज़ से संपर्क की कोशिश की लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला। ईरान ने अभी तक इस रिपोर्ट की पुष्टि या खंडन नहीं किया है। अमेरीकी सेना ने अगस्त में भी एक वीडियो जारी किया था जिसमें आईआरजीसी की चार स्पीड बोट्स को हुर्मुज़ स्ट्रेट में एक अमेरीकी युद्ध पोत के पास होते हुए दिखाया गया था। इस पर ईरान के रक्षा मंत्री ने जवाब देते हुए कहा था कि फ़ार्स की खाड़ी और दूसरे जल सीमाओं में देश की रक्षा का दायित्व हमारी नौसेना इकाइयों पर है और ईरान की स्पीड बोट्स अजनबी जहाज़ों की गतिविधियों पर नज़र रखने के लिए स्वाभाविक रूप से इन क्षेत्रों में लगातार गश्त करती रहती हैं। उन्होंने कहा कि हमारी जल सीमा में प्रवेश करने वाले हर पोत को हम वार्निंग देते हैं और अगर इसके बाद भी वह आगे बढ़े तो फिर हम मुक़ाबला करते हैं।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*