ईरान की उच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने की भारतीय प्रधानमंत्री से मुलाक़ात।

  • News Code : 774843
  • Source : अबना
Brief

ईरान की उच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने नई दिल्ली में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात में पिछले वर्षों के दौरान ईरान के शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम की समर्थन में भारत के रुख की प्रशंसा करते हुए कहा कि क्षेत्र के दो महत्वपूर्ण देशों के रूप में ईरान और भारत की मजबूत पोज़ीशन और दोनों देशों.................

अहलेबैत न्यबज़ एजेंसी अबना: ईरान की उच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने नई दिल्ली में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात में पिछले वर्षों के दौरान ईरान के शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम की समर्थन में भारत के रुख की प्रशंसा करते हुए कहा कि क्षेत्र के दो महत्वपूर्ण देशों के रूप में ईरान और भारत की मजबूत पोज़ीशन और दोनों देशों के रचनात्मक व्यवहार ने आपसी सहयोग को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के लिए अत्याधिक अवसर प्रदान किए हैं।
उन्होंने क्षेत्र के कुछ देशों की ग़लत नीतियों की निंदा करते हुए, जो चरमपंथी विचारधारा का समर्थन करके व्यवाहारिक रूप से आईएस के कारखाने में तब्दील हो चुके हैं, कहा कि ईरान और भारत के बीच सांस्कृतिक सहयोग भारत के मुसलमान समाज में चरमपंथी समूहों के प्रभाव और उनकी गतिविधियों को रोक सकता है। ईरान की उच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने भारतीय प्रधानमंत्री के ईरान दोरे में चाबहार समझौते पर हस्ताक्षर पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तर-दक्षिण कोरीडोर के सक्रिय हो जाने और इस परियोजना को व्यवहारिक रूप देने में चाबहार बंदरगाह के मुख्य रोल से इस कोरीडोर में शामिल सभी देशों को भारी आर्थिक लाभ होगा।
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कहा कि ईरान और भारत की विचारधारा और स्टैंड, मानवता का समर्थन और उसकी रक्षा करना है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज मानवता को जिस चीज से ख़तरा है वह आतंकवाद और उग्रवाद है। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस्लाम को दया और कृपा का धर्म बताया और कहा कि पिछले चौदह सौ वर्षों में कोई भी शक्ति इस्लाम को इतना नुकसान नहीं पहुंचा सकी कि जितना चरमपंथी आतंकवादियों ने पहुंचाया है।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

आशूरा: सृष्टि का राज़
پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1441 / 2020
conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं