$icon = $this->mediaurl($this->icon['mediaID']); $thumb = $this->mediaurl($this->icon['mediaID'],350,350); ?>
मुहम्मद जवाद ज़रीफ़:

अमरीका, ईरान को धमकियाँ देना छोड़ दे।

  • News Code : 702281
  • Source : एरिब.आई आर
Brief

ईरान के विदेशमंत्री ने अपने अमरीकी समकक्ष के बयान के बयान पर प्रतिक्रिता व्यक्त किया है।

ईरान के विदेशमंत्री ने अपने अमरीकी समकक्ष के बयान के बयान पर प्रतिक्रिता व्यक्त किया है।
मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने अमरीकी समकक्ष के शुक्रवार के बयान पर जो उन्होंने अमरीकी की विदेशी संबंध समिति की बैठक में दिया था, प्रतिक्रिया व्यक्त की है। विदेशमंत्री ने कहा कि जैसा कि हम बारंबार घोषणा कर चुके हैं कि शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम से पीछे हटने के लिए वैश्विक स्तर पर डाले जाने वाले दबाव के मुक़ाबले में ईरानी जनता ने एनपीटी समझौते के आधार प्रतिरोध किया औ अपना अधिकार पाने के लिए अंततः अमरीका को इस बात पर विवश कर दिया कि वह मुक़ाबले की शैली छोड़कर वार्ता द्वारा मुद्दे के समाधान पर अपना ध्यान केन्द्रित करे। उनका कहना था कि खेद की बात यह है कि अमरीकी विदेशमंत्री ने एक बार फिर सैन्य शक्ति के प्रयोग की अपनी घिसी पिटी बात दोहराई है। जवाद ज़रीफ़ ने कहा कि जॉन को यह बात अच्छी तरह पता है कि उन्होंने वार्ता के दौरान ईरानी राष्ट्र के विरुद्ध इस प्रकार की खोखली धमकियों और इस प्रकार की कार्यवाहियों के विरुद्ध ईरानी जनता के प्रतिरोध के बारे में बारंबार सुना है। विदेशमंत्री ने कहा कि बेहतर है कि अमरीकी अधिकारी अपनी पुरानी आदतें भूल जाएं और महान ईरानी राष्ट्र के विरुद्ध धमकी और प्रतिबंध जैसी बातें, सदैव के लिए मन से निकाल दें। विदेशमंत्री मुहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने कहा कि खेद की बात यह है कि जॉन कैरी ने अपने शुक्रवार के बयान में ज्वाइंट एक्शन प्लान और प्रस्ताव क्रमांक 2231 की विषयवस्तु को मिला दिया है।
ज्ञात रहे कि ज्वाइंट एक्शन प्लान की विषय वस्तु में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का ज्वाइंट एक्शन प्लान से कोई संबंध नहीं है


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*