विश्व क़ुद्स दिवस की रैलियों में हिस्सा लेने पर ताकीद।

  • News Code : 626198
  • Source : ईरान रेडियो
Brief

ईरानी राष्ट्रपति ने बल दिया कि विश्व क़ुद्स दिवस की रैलियों में जनता की व्यापक भागीदारी, अत्याचारग्रस्त फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के प्रति अधिक समर्थन के अर्थ में है।

ईरानी राष्ट्रपति ने बल दिया कि विश्व क़ुद्स दिवस की रैलियों में जनता की व्यापक भागीदारी, अत्याचारग्रस्त फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के प्रति अधिक समर्थन के अर्थ में है।
डाक्टर हसन रूहानी ने इस साल परिवेष्टन से घिरे ग़ज़्ज़ा पर इस्राईल के अपराधों के मद्देनज़र विश्व क़ुद्स दिवस की रैलियों के महत्व की ओर इशारा करते हुए कहा कि इस साल की रैलियों में जितना ज़्यादा लोग भाग लेंगे, पीड़ित फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के प्रति समर्थन उतना ही अधिक होगा और इससे अतिग्रहणकारी शासन को यह संदेश स्पष्ट रूप से पहुंचेगा कि अतिग्रहण, अतिक्रमण और जनसंहार का अंजाम पराजय है।
ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि आशा करते हैं कि शीघ्र ही अतिग्रहणकारियों व अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध फ़िलिस्तीनी राष्ट्र विजयी होगा।
उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि इस साल के विश्व क़ुद्स दिवस का महत्व पिछले वर्षों की तुलना में अधिक है, कहा कि फ़िलिस्तीन की रोज़ेदार और निहत्थी जनता पिछले सात साल से नाकेबंदी में हैं और इस समय एक अतिग्रहणकारी व घृणित शासन के विरुद्ध डटी हुयी है।
डाक्टर रूहानी ने मुसलमानों के लिए विश्व क़ुद्स दिवस की धार्मिक, क्षेत्रीय एंव अंतर्राष्ट्रीय दृष्टि से अहमियत की व्याख्या में कहा कि विश्व क़ुद्स दिवस में जनता की भागीदारी इस्लामी क्रान्ति के संस्थापक स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी के आदेश के पालन के लिए भी है और इसलिए भी है कि विश्व को बताया जाए कि बैतुल मुक़द्दस मुसलमानों की पवित्र भूमि है और इस भूमि तथा एक राष्ट्र के विस्थापन को कभी नहीं भुलाया जा सकता।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

*शहादत स्पेशल इश्यू*  शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी व अबू महदी अल-मुहंदिस
conference-abu-talib
We are All Zakzaky