वहाबी आतंकवाद का इस्लाम से दूर दूर तक कोई सम्बंध नहीं।

  • News Code : 659223
  • Source : wilayat.in
Brief

पाकिस्तान के शहर पेशावर में घटित होने वाली भयानक घटना, सल्फ़ी वहाबी शैतानों के छिपे हुए घृणित और निंदनीय चेहरे को दर्शाती है सल्फ़ी वहाबी शैतान किसी भी इस्लामी, नैतिक और इंसानी सिद्धांत को नहीं मानते हैं।

पाकिस्तान के शहर पेशावर में घटित होने वाली भयानक घटना, सल्फ़ी वहाबी शैतानों के छिपे हुए घृणित और निंदनीय चेहरे को दर्शाती है सल्फ़ी वहाबी शैतान किसी भी इस्लामी, नैतिक और इंसानी सिद्धांत को नहीं मानते हैं।
उन्होंने पेशावर में कुछ बच्चों को गला रेत कर मार डाला और एक महिला शिक्षक को बच्चों के सामने जिंदा जला दिया। सच्चाई यह है कि सल्फ़ी वहाबी तथाकथित उल्मा आज तक तालिबान आतंकवादियों का समर्थन करते आये हैं और उन्हें तथाकथित जिहाद और दंगों पर उकसाया करते हैं।
आज भी सऊदी अरब के सल्फ़ी वहाबी उल्मा, सल्फ़ी शैतानों को इराक़ और सीरिया में तथाकथित जिहाद के नाम पर उकसा रहे और दुनिया भर में जारी सभी खून ख़राबे में सल्फ़ी वहाबी शैतानी संगठन शामिल हैं।
मुसलमानों को चाहिये कि वह एकजुट होकर सल्फ़ी वहाबी शैतानों का मुक़ाबला करें और उनके प्रस्तुत किए हुए तथाकथित अमेरिकी और यज़ीदी इस्लाम को ठुकरा दें क्योंकि उनका प्रस्तुत किया हुआ इस्लाम वही है जो बनी उमय्या का इस्लाम है और जिसके मुखिया यज़ीद जैसे लोग हैं। पाकिस्तानी सरकार को चाहिए कि वह सेना, पुलिस और सरकारी संस्थानों में सल्फ़ी वहाबी शैतानों पर कड़ी नजर रखे और पाकिस्तान में सल्फ़ी वहाबी शैतानों के सभी मदरसों को बंद करने का आदेश दे जो तालिबान जैसे समूहों का प्रशिक्षण कर रहे हैं और दंगा व ख़ून ख़राबा सिखाया जाता है जहां जेहालत, गुमराही और नफ़रतें फैलाई जाती हैं।
इसलिये सल्फ़ी वहाबी शैतानों का जीना हराम कर देना चाहिए क्योंकि यह लोग इंसान नहीं बल्कि वहशी दरिंदे हैं। पेशावर स्कूल के अंदर से मिलने वाली सूचनाओं के अनुसार सल्फ़ी वहाबी शैतानों ने कुछ बच्च्चों को गला रेत कर भी मारा है। हालांकि उनकी पहचान नहीं की जा सकी है।
सूत्रों के अनुसार सल्फ़ी वहाबी आतंकवादी बच्चों से उनके मां बाप के बारे में भी पूछ रहे थे। एक सुरक्षा अधिकारी की पत्नी को बच्चों के सामने ज़िंदा जला दिया गया, एक मेजर की पत्नी और दो बच्चों को भी भयानक रूप से मार डाला गया। सल्फ़ी वहाबी और देवबंदी मदरसों में ऐसी ही शिक्षा दी जाती है जो यज़ीदी सिद्धांतों से मिलती जुलती है जिसकी घोर निंदा किये जाने की सख़्त ज़रूरत है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं