पेशावर पाकिस्तान

तालिबान हमले में अब तक 135 बच्चों की मौत, 230 घायल।+ फोटो

  • News Code : 658782
  • Source : अबना
Brief

पाकिस्तान के शहर पेशावर में पाकिस्तानी सेना प्रशासित स्कूल में सल्फ़ी वहाबी आतंकवादियों के हमले में अब तक 135 बच्चे मारे गए हैं और 230 घायल हो गए हैं इस भयानक और ख़ौफ़नाक हमले की जिम्मेदारी तालिबान आतंकवादियों ने स्वीकार कर ली है पाकिस्तान से तालिबान के संकट को खत्म करने के लिए वहाबी और देवबंदी मदरसों का अंत बहुत जरूरी है। आई एसपी आर के अनुसार स्कूल में सैन्य बलों की सर्च और बचाव अभियान जारी है और इस दौरान सुरक्षा कर्मियों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी भी हो रही है।

अहलेबैत (अ) समाचार एजेंसी अबनाकी रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के शहर पेशावर में पाकिस्तानी सेना प्रशासित स्कूल में सल्फ़ी वहाबी आतंकवादियों के हमले में अब तक 135 बच्चे मारे गए हैं और 230 घायल हो गए हैं इस भयानक और ख़ौफ़नाक हमले की जिम्मेदारी तालिबान आतंकवादियों ने स्वीकार कर ली है पाकिस्तान से तालिबान के संकट को खत्म करने के लिए वहाबी और देवबंदी मदरसों का अंत बहुत जरूरी है। आई एसपी आर के अनुसार स्कूल में सैन्य बलों की सर्च और बचाव अभियान जारी है और इस दौरान सुरक्षा कर्मियों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी भी हो रही है।
स्कूल के 3 ब्लाक ख़ाली करा लिए गए हैं। आपरेशन के दौरान अब तक 4 आतंकवादी मारे गए हैं जबकि बच जाने वालों को स्कूल के अंतिम ब्लॉक तक सीमित कर दिया गया है। इसके अलावा पुलिस ने भी क्षेत्र में अपनी टुकड़ियाँ बढ़ा दी है ताकि कोई भी आतंकवादी क्षेत्र से बच निकलने में सफल न हो सके। घटना की जिम्मेदारी सल्फ़ी वहाबी तालिबान आतंकवादियों ने स्वीकार कर ली है। संगठन के मुख्य प्रवक्ता मोहम्मद उमर ख़ुरासानी ने ब्रिटिश समाचार एजेंसी से बात करते हुए कहा कि इस कार्रवाई में उनके संगठन के 6 सदस्य लिप्त हैं और यह कार्रवाई उत्तरी वजीरिस्तान में जारी सैन्य अभियान ग़ज़ब और खैबर एजेंसी में जारी ऑपरेशन खैबर वन के जवाब में है। आरमी के जिस स्कूल पर तालिबान ने हमला किया है इसमें बच्चों की संख्या 400 से 500 तक है।
हमले के समय अक्सर बच्चे स्कूल में थे। रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान में वहाबी और देवबंदी मदरसे तालिबान और आतंकवादियों की शक्ति का असली केंद्र हैं। तालिबान के भयानक अपराध को समाप्त करने के लिए सल्फ़ी वहाबी और तकफीरिय प्रोपगंडों का अंत आवश्यक है और इस की समाप्ति के लिए सल्फ़ी वहाबी मदरसों को प्रतिबंधित कर देना चाहिए और वहाबी मदरसों पर ताले लगा देने चाहिए।
तकफीरिय देवबंदी आतंकवादी गुट तालिबान पाकिस्तान ने पेशावर में स्कूल पर हमले की जिम्मेदारी स्वीकार की है, तरजुमाने तहरीक तालिबान पाकिस्तान का कहना है कि उनका हदफ़ स्कूल के बच्चे थे। हमले में 135 से अधिक छात्र शहीद और 230 से ज़्यादा शिक्षक व छात्र घायल हो गए हैं।

 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं