अमरीका की खोज मुसलमानों ने की थी, तुर्क राष्ट्रपति

  • News Code : 651981
  • Source : एरिब.आई आर
Brief

तुर्की के राष्ट्रपति ने दावा किया है कि कोलम्बस से पहले ही मुसलमानों ने अमरीका महाद्वीप की खोज कर ली थी।

तुर्की के राष्ट्रपति ने दावा किया है कि कोलम्बस से पहले ही मुसलमानों ने अमरीका महाद्वीप की खोज कर ली थी।
रजब तैयब अर्दोग़ान ने इस्तंबोल में अमरीका के मुस्लिम नेताओं के एक सम्मेलन में कहा कि इस बात का प्रमाण स्वयं क्रिस्टोफ़र कोलम्बस के दस्तावेज़ों से मिलता है जिसमें उन्होंने क्यूबा की एक पहाड़ी पर मस्जिद होने का उल्लेख किया है। उन्होंने कहा कि इस्लाम और लैटिन अमरीका के बीच 12वीं शताब्दी में ही रिश्ते स्थापित हो गए थे और मुसलमान वर्ष 1178 में इस भूभाग तक पहुंच गए थे। उन्होंने इसी स्थान पर एक मस्जिद के निर्माण का प्रस्ताव दिया जिसका उल्लेख कोलम्बस ने किया है।
आम धारणा यही है कि इतालवी सैलानी क्रिस्टोफ़र कोलम्बस ने वर्ष 1492 में उस समय अमरीका की खोज की थी जब वह भारत के लिए नया समुद्री मार्ग खोजने के लिए निकला था। वर्ष 1996 में एक मुस्लिम इतिहासकार यूसुफ़ मरूह ने अपनी किताब में कोलम्बस के दस्तावेज़ों के हवाले से दावा किया कि सबसे पहले मुसलमान अमरीका पहुंचे थे और कोलम्बस के पहुंचने से पहले वहां इस्लाम फैल चुका था किंतु बहुत से अन्य इतिहासकारों का कहना है कि कोलम्बस ने अपने यात्रा वृत्तांत में मस्जिद का नहीं बल्कि मस्जिद रूपी पहाड़ी का उल्लेख किया है।
तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि आज भी उस पहाड़ी पर बेहतरीन मस्जिद का निर्माण हो सकता है और वे इस संबंध में क्यूबा के अधिकारियों से बात करना चाहेंगे।
ज्ञात रहे कि उत्तरी व दक्षिणी अमरीका पर सबसे पहले क़दम एशियाई लोगों ने रखे थे जो एक विचार के अनुसार बहरंग स्ट्रेट से गुज़र कर पंद्रह हज़ार वर्ष पहले वहां पहुंचे थे। उत्तरी अमरीका पहुंचने वाले सबसे पहले यूरोपीय, नॉर्वे के थे जो कोलम्बस से पांच सौ साल पहले वहां पहुंचे थे।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं