जार्डनः फ़ातेहा पर बवाल

  • News Code : 654031
  • Source : एरिब.आई आर
Brief

इस्राईली राजदूत के बयान पर जार्डन में मचने वाले हंगामे बाद जार्डन के विदेश मंत्रालय में इस्राईली राजदूत को तलब करके विरोध जताने की गतिविधियां आरंभ हो गई हैं।

इस्राईली राजदूत के बयान पर जार्डन में मचने वाले हंगामे बाद जार्डन के विदेश मंत्रालय में इस्राईली राजदूत को तलब करके विरोध जताने की गतिविधियां आरंभ हो गई हैं।
जार्डन के संसद सभापति आतिफ़ तरावना ने संसद के बारे में इस्राईली राजदूत के अपमानजनक बयान पर विरोध जताने के मामले में ढिलाई बरतने पर सरकार की कड़ी निंदा की थी। इस्राईली राजदूत ने बैतुल मुक़द्दस नगर में हालिया हमला करने वाले फ़िलिस्तीनियों के लिए की जाने वाली फ़ातेहा ख़ानी पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस्राईली राजदूत ने कहा था कि यदि जार्डन की संसद पर ज़ायोनियों का हमला हो जाए तो उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा क्योंकि इस्राईल हमेशा जार्डन की जनता के शत्रुओं के समूह में ही शामिल रहेगा।
जार्डन के विदेश मंत्री मुहम्मद मोमेनी ने कहा कि कूटनयिक संस्कारों के विपरीत बयान देकर इस्राईली राजदूत ने जार्डन में एक हंगामा खड़ा कर दिया है। जार्डन के विदेश मंत्रालय में संबंधित विभाग को आदेश दिया गया कि इस्राईली राजदूत को तलब करके इस बयान के बारे में पहले तो स्पष्टीकरण मांगा जाए और फिर आपत्ति जतायी जाए।
इस्राईली राजदूत नीवो अमलिया ने यह बयान उस समय दिया जब अम्मान में उनकी तैनाती का कार्यकाल समाप्त होने वाला था और बयान देने के बाद इस्राईली राजदूत जार्डन से रवाना हो गए।
जार्डन के राजदूत ने कहा कि इस्राईली राजदूत ने जार्डन की संसद का अपमान करके सारे जार्डन वासियों का अपमान किया है और कूटनीति विभाग के संबंधित अधिकारी इस मामले को आगे बढ़ाएंगे। जार्डन ने यह प्रयास किया है कि इस्राईली राजदूत को जार्डन वापस आएं और अम्मान आकर अपने बयान पर स्पष्टीकरण दें।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं