$icon = $this->mediaurl($this->icon['mediaID']); $thumb = $this->mediaurl($this->icon['mediaID'],350,350); ?>

शेख़ ज़कज़की को जेल की सलाख़े भी रमज़ान में दान और पुण्य से नहीं रोक सकीं।

  • News Code : 763345
  • Source : तेहरान रेडियो
Brief

नाइजीरिया की इस्लामी आंदोलन के प्रमुख आयतुल्लाह शेख़ ज़कज़की हर साल की तरह इस साल भी अपने पड़ोसियों के लिए इफ़्तार और भोजन का प्रबंधन कर रहे हैं, लेकिन एक फ़र्क़ के साथ और वह यह कि इस साल वे जेल से यह पुण्य कर रहे हैं।

नाइजीरिया की इस्लामी आंदोलन के प्रमुख आयतुल्लाह शेख़ ज़कज़की हर साल की तरह इस साल भी अपने पड़ोसियों के लिए इफ़्तार और भोजन का प्रबंधन कर रहे हैं, लेकिन एक फ़र्क़ के साथ और वह यह कि इस साल वे जेल से यह पुण्य कर रहे हैं।
गत वर्ष नाइजीरियाई सैनिकों के हाथों सैकड़ों शिया मुसलमान शहीद हो गए थे और शेख़ ज़कज़की को घायल करके गिरफ़्तार कर लिया गया था।
इस घटना के बाद इस रहस्य से पर्दा उठा कि शेख़ ज़कज़की के बहुत से पड़ोसी वहाबी और जासूस हैं। इसके बावजूद शेख़ ज़कज़की ने अपने परिजनों और अनुयाईयों को आदेश दिया कि रमज़ान के मुबारक महीने में हर वर्ष की भांति समस्त पड़ोसियों को इफ़्तार और भोजन उपलब्ध करवाया जाए।
इस साल पड़ोसियों तक इफ़्तार और भोजन पहुंचाने की ज़िम्मेदारी शेख़ इब्राहीम ज़कज़की की बहन पूरी कर रही है।
शेख़ ज़कज़की पैग़म्बरे इस्लाम (स) के परिजनों से प्रेम करते हैं और उनका अनुसरण करते हुए वे अपने पड़ोसियों को इफ़्तार कराते हैं।
हालांकि उनके वहाबी पड़ोसियों को अब उनका यह पुण्य कार्य पसंद नहीं आ रहा है और उन्होंने ज़हरीले भोजन का बहाना बनाकर शेख़ ज़कज़की के घर पर धावा बोल दिया और समस्त इफ़्तारी एवं भोजन सड़क पर फेंक दिया। जबकि उनके ईसाई पड़ोसियों ने पर वर्ष की तरह इस बार भी उनके इस क़दम का दिल खोलकर स्वागत किया है।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*