?>

6 कंपनियों के बाद अब फ़ोर्ड ने भी भारत से लपेटा अपना बोरिया बिस्तरा

6 कंपनियों के बाद अब फ़ोर्ड ने भी भारत से लपेटा अपना बोरिया बिस्तरा

अमरीकी कंपनी फ़ोर्ड ने नुक़सान से तंग आकर आख़िरकार भारत में अपने मैन्यूफ़ैक्चरिंग प्लांट बंद कर दिए हैं।

इसके साथ ही पिछले पांच साल में भारत से फ़ोर्ड, हार्ले डेविडसन, फ़िएट, मान, पोलारिस, जनरल मोटर्स और यूनाइटेड मोटर्स मोटरसाइकिल्स जैसी 7 कंपनियां भारत से अपना बोरिया बिस्तरा लपेट चुकी हैं।

फ़ोर्ड ने शुरूआत से ही भारत में दिक्क़तों का सामना किया और वह कभी भी यहां मुनाफ़े में नहीं रही, क्योंकि भारत में वॉल्यूम सेगमेंट यानी छोटी कारों का जलवा है।

फिलहाल भारत में फोर्ड डीलरशिप में कंपनी की महज 1000 कारें बची हैं।

पिछले कुछ वर्षों से फ़ोर्ड की कारों की बिक्री काफ़ी घट गई थी और इस वजह से कंपनी को काफ़ी नुक़सान हो रहा था।

फ़ोर्ड मोटर कंपनी भारत में ख़ुद को रिस्ट्रक्चर करना चाहती है, हालांकि रिस्ट्रक्चरिंग प्रोसेस में कम से कम 4,000 कर्मचारियों का भविष्य प्रभावित हो सकता है। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*