?>

सुलग रहा म्यांमार, शनिवार को एक दिन में अब तक सबसे ज़्यादा लोग मारे गए, दर्जनों लोगों के क़त्ल के साथ मनाया गया सेना दिवस

सुलग रहा म्यांमार, शनिवार को एक दिन में अब तक सबसे ज़्यादा लोग मारे गए, दर्जनों लोगों के क़त्ल के साथ मनाया गया सेना दिवस

म्यांमार में सेना ने 91 लोगों के नरसंहार के साथ सेना दिवस मनाया।

म्यांमार में सैन्य विद्रोह के बाद शुरू हुए प्रदर्शन को दबाने के क्रम में, सुरक्षा बलों ने शनिवार को एक दिन में सबसे ज़्यादा आम लोगों का नरंसहार किया।

ऑनलाइन न्यूज़ वेबसाइट म्यांमारनाउ ने रिपोर्ट में बताया कि शाम होते होते इस देश में 91 लोग मारे जा चुके थे।

इससे पहले एक दिन में सबसे ज़्यादा 74 लोग 14 मार्च को मारे गए थे।

यांगून में आज़ाद शोधकर्ता के मुताबिक़, शाम होते होते 89 लोग मारे जा चुके थे। यह शोधकर्ता रियल टाइम मौत की तादाद का डेटा इकट्ठा कर रहे हैं। उनके मुताबिक़, ये लोग 2 दर्जन से ज़्यादा शहरों और क़स्बों में मारे गए।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर म्यांमार की सैन्य सरकार की भर्त्सना हो रही है। मारे गए आम लोगों में बच्चे भी हैं।

म्यांमार में 1 फ़रवरी को हुए सैन्य विद्रोह के बाद, जिसके नतीजे में सूकी की सरकार गिरा दी गयी, मरने वालों की तादाद बढ़ती जा रही है, क्योंकि सैन्य शासन विपक्ष को ताक़त के बल पर दबाने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा ताक़त का इस्तेमाल कर रहा है।

असोसिएशन ऑफ़ पॉलिटिकल प्रिज़्नर के मुताबिक़, शुक्रवार तक सैन्य विद्रोह के बाद हुए दमन में मरने वालों की तादाद 328 हो चुकी थी। इसमें 91 जोड़ने से यह तादाद बढ़ कर 419 हो गयी है। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*