?>

सऊदी अरब में महिलाओं को मिली सेना में भर्ती होने की अनुमति

सऊदी अरब में महिलाओं को मिली सेना में भर्ती होने की अनुमति

ड्राइविंग की अनुमति मिलने के बाद अब सऊदी महिलाओं को इस देश की सेना में जाने का भी अवसर प्राप्त हुआ है।

जहां पर ड्राइविंग करने की भी अनुमति नहीं थी वहीं पर महिलाएं अब बंदूक उठने जा रही हैं।

अरब न्यूज़ के अनुसार सऊदी अरब के रक्षामंत्रालय ने एक बयान जारी किया है जिसमें इस देश की सशस्त्र सेनाओं में महिलाओं की भर्ती की बात कही गई है।

इस बयान में कहा गया है कि देश की सेना में पुरुष और महिलाएं दोनों ही शामिल हो सकते हैं।  सऊदी अरब के रक्षामंत्रालय के बयान के अनुसार देश की सेना, राॅएल सऊदी एयर डिफेंस, राॅएल सऊदी नेवी, राॅएल सऊदी स्ट्रैटेजिक मिसाइल फोर्स और आर्म्ड फोर्सेज़ मेडिकल सर्विस में महिलाओं को सोलजर से सारजेंट रैंक पर भर्ती किया जाएगा।

बयान में कहा गया है कि निवेदन करने वाले को भर्ती की सारी शर्तों को पूरा करना होगा।  मंत्रालय की ओर से जारी बयान में यह भी बताया गया है कि देश की सशस्त्र सेना में महिलाओं की भर्ती 21 वर्ष की आयु से होगी और वे कम से कम हाई स्कूल पास हों।महिलाओं को सेना में शामिल करने के बारे में सऊदी अरब के रक्षामंत्रालय ने एक इस बयान पर विभिन्न वर्गों की ओर से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

याद रहे कि हालिया कुछ महीनों के दौरान सऊदी अरब में महिलाओं को समाज में कई अन्य भूमिकाएं निभाने की अनुमति दी जा चुकी है।  इससे पहले वहां पर महिलाओं को ड्राइविंग की भी अनुमति नहीं थी।  महिलाओं के लिए ड्राइविंग की मांग करने वाली सऊदी अरब की मशमहूर महिला कार्यकर्ता लुजैन हज़्लूल को हाल ही में जेल से स्वतंत्र किया गया है जो 2018 से जेल में बंद थीं।  यहां पर इस बात का उल्लेख आवश्यक है कि लंबे समय से मानवाअधिकार संगठनों की ओर से सऊदी अरब की आलोचना की जाती रही है क्योंकि वहां से मानवाधिकारों के हनन की बहुत सी शिकायतें इन संगठनों को प्राप्त हुई हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1441 / 2020
conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं