?>

सऊदी अरब में एक साथ 81 लोगों को फांसी के बाद ईरान ने सऊदी अरब के साथ सीधी वार्ता रद्द कर दी

सऊदी अरब में एक साथ 81 लोगों को फांसी के बाद ईरान ने सऊदी अरब के साथ सीधी वार्ता रद्द कर दी

ईरान ने सऊदी अरब के साथ रिश्तों की बहाली के लिए जारी पांचवे चरण की वार्ता रद्द कर दी है।

रविवार को ईरान की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद से संबंधित नूर न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक़, ईरान ने एकतरफ़ा और अस्थायी तौर पर इस वार्ता को स्थगित करने का फ़ैसला लिया है।

इराक़ के विदेश मंत्री फ़ुवाद हुसैन ने तुर्की में एक कूटनीतिक फ़ोरम में कहा था कि बग़दाद में ईरान और सऊदी अरब के बीच पांचवे चरण की वार्ता बुधवार को शुरू होने जा रही है।

रिपोर्ट में वार्ता को स्थिगित करने का कोई कारण नहीं बताया गया है और न ही वार्ता को फिर से शुरू करने के लिए किसी नई तारीख़ का एलान किया गया है।

पश्चिम एशिया के दोनों अहम देशों के बीच इराक़ में पिछले साल अप्रैल में वार्ता शुरू हुई थी और अब तक दोनों के बीच चार चरणों की वार्ता हो चुकी है।

ग़ौरतलब है कि आले सऊदी शासन द्वारा वरिष्ठ सऊदी शिया धर्मगुरु शेख़ बाक़िर अल-निम्र और कई विद्वानों को मौत की सज़ा दिए जाने के बाद तेहरान स्थित सऊदी दूतावास के सामने हिंसक प्रदर्शन हुए थे, जिसके बाद सऊदी अरब ने जनवरी 2016 में ईरान के साथ अपने कूटनीतिक रिश्तों को तोड़ लिया था।

कुछ जानकारों का मानना है कि 12 मार्च को एक बार फिर सऊदी अरब में 81 लोगों को एक साथ मौत की सज़ा दी गई है, जिसमें 41 शिया मुसलमान भी शामिल हैं। ईरान की ओर से वार्ता रद्द करने का एक कारण इन सामूहिक फांसियों पर आपत्ति दर्ज करवाना भी हो सकता है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*