?>

सऊदी अरब की बैठकों की कड़े शब्दों में आलोचना

सऊदी अरब की बैठकों की कड़े शब्दों में आलोचना

सऊदी अरब के पवित्र नगर मक्के में इस्लामी देशों के ईरान विरोधी बैठक के आयोजन पर यमन के जनांदोलन अंसारुल्लाह ने कड़ी आलोचना की है।

यमन की राष्ट्रीय वार्ताकार टीम के प्रतिनिधि मंडल के प्रमुख अब्दुस्सलाम ने कहा कि सऊदियों ने अपनी सरकार की मूर्खतापूर्ण कार्यवाहियों के परिणाम में पैदा होने वाली स्थिति पर रोने के लिए इस्लामी देशों के राष्ट्राध्यक्षों को मक्के में एकत्रित किया है।

उन्होंने मक्के में तीन संगठनों अरब संघ, ओआईसी और फ़ार्स की खाड़ी सहयोग परिषद के प्रमखों की बैठकों के लक्ष्यों की भी कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि इन बैठकों के घोषणापत्र भी यमनी जनता को सऊदी अतिक्रमण के विरुद्ध वैध और क़ानूनी प्रतिरोध से रोक नहीं सकते।

ईरान विरोधी यह तीनों बैठक बिना किसी परिणाम के समाप्त हो गयी। अलमयादीन टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार ईरानोफ़ोबिया का सऊदी हथकंडा लाभदायक नहीं हुआ जबकि सऊदी अरब और उसके घटकों में बढ़ती हुई दूरी इस बात को सिद्ध करती है कि आले सऊद की ओर से अपनाई जाने वाली नीतियां विलंब का शिकार हो गयीं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*