?>

शहीदों के पवित्र ख़ून ने इतिहास में इस्लामी क्रांति को अमर कर दिया, वरिष्ठ नेता

शहीदों के पवित्र ख़ून ने इतिहास में इस्लामी क्रांति को अमर कर दिया, वरिष्ठ नेता

​​​​​​​ईरान की इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई ने शहीदों के स्मरण दिवस के अवसर पर अपने संदेश में कहा है कि शहीदों के पवित्र ख़ून ने इतिहास में इस्लामी क्रांति को अमर कर दिया है।

वरिष्ठ नेता की आधिकारिक वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक़, गुरुवार को आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई ने अपने संदेश में कहा हैः पवित्र रक्षा सप्ताह, महान शहीदों के नामों और यादों से सुसज्जित है। उनकी निष्ठावान क़ुर्बानियों ने ईरानी राष्ट्र को जीत उपहार स्वरूप प्रदान की। उनके पवित्र ख़ून ने इतिहास में इस्लामी गणतंत्र की सच्चाई को दर्ज कर दिया।

उन्होंने कहाः इन महान हस्तियों ने क़ुर्बानी का पाठ पढ़ाया है। जहां कहीं भी निष्ठावान प्रयास होता है, वहां जीत और गौरव भी होता है।

इराक़ के पूर्व तानाशाह सद्दाम ने 22 सितम्बर 1980 को ईरान पर सैन्य चढ़ाई कर दी थी, जिसके बद यह लड़ाई 8 साल तक जारी रही। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*