?>

लेबनान को शांत नहीं देख पा रहा है फ़्रांस, बैरूत फिर पहुंचे फ़्रांसीसी राष्ट्रपति, लेबनानी अधिकारियों को दी बड़ी धमकी

लेबनान को शांत नहीं देख पा रहा है फ़्रांस, बैरूत फिर पहुंचे फ़्रांसीसी राष्ट्रपति, लेबनानी अधिकारियों को दी बड़ी धमकी

फ़्रांस के एक समाचार पत्र ने लिखा है कि राष्ट्रपति ने लेबनान के अपने पहले दौरे के दौरान इस देश के अधिकारियों को कड़े प्रतिबंधों की धमकी दी थी।

फ़्रांस के राष्ट्रपति ने सोमवार की शाम बैरूत का दोबारा दौरा किया। यह दौरा एक महीने से भी कम अवधि में दूसरा दौरा है जिसके दौरान वह लेबनान के अधिकारियों पर अपने दृष्टिगत सुधार के लिए दबाव डाल रहे हैं।

फ़्रांसीसी समाचार पत्र फ़िगारो ने अपने संस्करण में लिखा कि बैरूत धमाके के एक दिन बाद ही राष्ट्रपति एमैनुल मैंक्रा बैरूत पहुंच गये और उन्होंने उन लेबनानी राजनेताओं को प्रतिबंधों की धमकी दी जो उनके दृष्टिगत सुधार को लागू करने में प्रतिरोध कर रहे हैं।

सोमवार को रात जब मैंक्रां बैरूत पहुंचे तो हवाई अड्डे पर पत्रकारों ने उनसे पूछा कि वह दूसरी बार लेबनान क्यों आए तो उन्होंने कहा कि बैरूत धमाके के बाद मानवता प्रेमी सहायताओं को निकट से देखने वह आए हैं। उनका कहना था कि फ़्रांस ने पेरिस में संयुक्त राष्ट्र संघ की निगरानी में 9 अगस्त को मानवताप्रेमी सहायताओं को व्यवस्थित करने के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय कांफ़्रेंस का आयोजन किया और इस विषय पर अधिक पारदर्शिता के लिए हम बल देते हैं।  

फ़्रांस के राष्ट्रपति ने उसके बाद अलमुस्तक़बल पार्टी के प्रमुख और देश के पूर्व प्रधानमंत्री साद हरीरी से सनोबर हाऊस में मुलाक़ात की। लेबनान के सरकारी टीवी चैनल एनएनई ने अपनी रिपोर्ट में बल दिया कि इस मुलाक़ात में राजनैतिक हालात और द्विपक्षीय संबंधों पर विचार विमर्श किया गया।

फ़्रांस के राष्ट्रपति आज मंगलवार को बैरूत धमाके के घटनास्थल का भी दौरा करेंगे। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*