?>

लीबिया में 4 अप्रैल से अब तक क़रीब 400 लोगों की मौत, 50000 बेघर हुए

लीबिया में 4 अप्रैल से अब तक क़रीब 400 लोगों की मौत, 50000 बेघर हुए

विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ का कहना है कि जबसे लीबिया में विद्रोही जनरल, ख़लीफ़ा हफ़्तर ने राजधानी त्रिपोली पर क़ब्ज़ा करने के लिए हमला शुरु किया है, उस समय से अब तक क़रीब 400 लोग मारे जा चुके और 50000 से ज़्यादा बेघर हो चुके हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शुक्रवार को कहा कि 4 अप्रैल से जिस दिन बाहुबली हफ़्तर ने लीबिया की अंतर्राष्ट्रीय समुदाय द्वारा मान्य राष्ट्रीय समन्वय सरकार जीएनए के ख़िलाफ़ हमला शुरु किया तबसे अब तक 392 लोग मारे गए और 1936 घायल हुए हैं।

दूसरी ओर संयुक्त राष्ट्र संघ के मानवीय मामलों के समन्वयक कार्यालय ओसीएचए ने भी राजधानी त्रिपोली के पास विस्थापितों की बढ़ती संख्या पर चिंता जताते हुए कहा है कि त्रिपोली में सशस्त्र टकराव बढ़ने के सीधे नतीजे में 50000 से ज़्यादा लोग बेघर हो चुके हैं।

ग़ौरतलब है कि लीबिया दो प्रतिद्वंदवी सरकारों के बीच बटा हुआ है। हाउस ऑफ़ रिप्रेज़ेन्टेटिव पूर्वी शहर तबरूक में हैं जबकि राष्ट्रीय समन्वय सरकार राजधानी त्रिपोली में है, जिसकी अध्यक्षता प्रधान मंत्री फ़ाएज़ अस्सर्राज कर रहे हैं।

75 साल के हफ़्तर जिन्हें सऊदी अरब, यूएई और मिस्र का समर्थन तथा सशस्त्र मिलिशिया के गुट की वफ़ादारी हासिल है, ख़ुद से तबरूक की सरकार की रक्षा कर रहे हैं।

लीबिया की राष्ट्रीय समन्वय सरकार की वफ़ादार सेना और मिलिशिया हफ़्तर की फ़ोर्सेज़ को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*