?>

राहुल गांधी के बयान पर रक्षामंत्रालय की सफ़ाई, किसी भी क्षेत्र को चीन को नहीं सौंपा गया

राहुल गांधी के बयान पर रक्षामंत्रालय की सफ़ाई, किसी भी क्षेत्र को चीन को नहीं सौंपा गया

राहुल गांधी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पड़ोसी देश चीन के सामने झुक गए हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान पर भारत के विदेश मंत्रालय ने सफाई दी है।  राहुल गांधी ने लद्दाख में सैनिकों को पीछे ले जाने तथा चीन से हुए समझौते को लेकर सरकार पर सवाल उठाया।

उनका कहना था कि मोदी जी ने भारतीय इलाके को चीनियों को दे दिया है। राहुल गांधी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पड़ोसी देश के सामने झुक गए हैं।भारत के रक्षा मंत्रायल ने स्पष्ट किया है कि किसी भी क्षेत्र को चीन को नहीं सौंपा गया, बल्कि एलएसी का सम्मान किए जाने को लागू किया गया और एकतरफा तरीके से यथास्थिति में किसी भी बदलाव को रोका गया है।

इसी बीच भाजपा के अध्यक्ष ने भी राहुल गांधी पर हमला किया है।  जेपी नड्डा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस को कभी सेना पर भरोसा नहीं रहा।  नड्डा ने ट्वीट में कहा है कि कांग्रेस का रिकॉर्ड बताता है कि इसने सशस्त्र बलों पर भरोसा नहीं किया। यह लोगों को पता है कि यूपीए ने कभी सेना पर भरोसा नहीं किया। 

ज्ञात रहे कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कल संसद में कहा था केन्द्र सरकार अपने पुराने रुख को भूल गई। चीन के सामने नरेंद्र मोदी ने अपना सिर झुका दिया और मत्था टेक दिया है। हमारी जमीन फिंगर 4 तक है। मोदी ने फिंगर 3 से फिंगर 4 की जमीन जो हिंदुस्तान की पवित्र जमीन थी, चीन को सौंप दी है। उन्होंने कहा, ''देपसांग के इलाके में चीन अंदर आया है। हमारे रक्षामंत्री इस बारे में एक शब्द नहीं बोला। राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने गोगरा और हॉट स्प्रिंग के बारे में भी एक शब्द नहीं बोला जहां पर चीनी बैठे हुए हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1441 / 2020
conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं