?>

यूक्रेन में जैविक हथियार बना रहा था अमरीका, हमले के बाद मिटाए सारे सुबूतः रूस

यूक्रेन में जैविक हथियार बना रहा था अमरीका, हमले के बाद मिटाए सारे सुबूतः रूस

रूस का कहना है कि अमरीका, यूक्रेन में जैविक हथियार बनवा रहा था। मास्को के अनुसार यूक्रेन पर हमले के बाद सारे सुबूत नष्ट कर दिये गए।

संचार माध्यमों के अनुसार रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा है कि यूक्रेन में अपने सैन्य ऑपरेशन के दौरान रूस को वहां पर जैविक हथियार बनाने के पुख़्ता सबूत मिले हैं।

जखारोवा ने कहा कि जैविक हथियार, रूस पर खतरा बढ़ाने का जरिया हैं।  उनके अनुसार पेंटागन इसके लिए वित्तीय मदद दे रहा था।

रूसी अधिकारियों ने कहा है कि अमेरिका दुनिया को यह स्पष्ट करे कि उसने हमारे पड़ोस में सैन्य जैविक हथियार कार्यक्रम क्यों चला रखा था जिसमें एंथ्रेक्स और प्लेग जैसे रोगों के घातक रोगाणु विकसित किए जा रहे थे।

रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता जखारोवा ने बताया कि 24 फरवरी के बाद यूक्रेन ने प्लेग, हैजा और एंथेक्स आदि के सैंपल नष्ट कर दिए थे। उनका कहना है कि यूक्रेन में जैविक हथियार बनवाने में पेंटागन की रक्षा ख़तरा न्यूनीकरण एजेंसी लिप्त थी।

रूस के  अनुसार अमरीका ने इस संबन्ध में 30 प्रयोगशालाओं के लिए 20 करोड़ डॉलर ख़र्च किये हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*