?>

यूएई और सऊदी तेल टैंकरों पर हमले के बाद तेल के मूल्य आसमान छूने लगे

यूएई और सऊदी तेल टैंकरों पर हमले के बाद तेल के मूल्य आसमान छूने लगे

सऊदी अरब का कहना है कि संयुक्त अरब इमारात के तट पर धमाके का शिकार बनाए जाने वाले ४ जहाज़ों में से दो तेल टैंकर जहाज़ उसके हैं जिन्हें हमले में भीषण नुक़सान पहुंचा।

एसोशिएटेड प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अधिकारियों का कहना था कि हमले में निशाना बनने वाला तेलटैंकर सऊदी अरब से तेल अमरीका ले जा रहा था।

सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री ख़ालिद अलफ़ालेह की ओर से उक्त बयान ऐसे समय में सामने आया है कि जब अमरीका की ओर से जहाज़रानी के विभाग से संबंधित लोगों को हमलों के हवाले से सचेत किया गया था।

ज्ञात रहे कि पिछले दिन अलफ़ुजैरा के तटवर्ती शहर की बंदरगाह पर 4 जहाज़ों में विध्वंसक कार्यवाही पर संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से निंदनीय बयान सामने आया था किन्तु इससे पहले वह तटवर्ती क्षेत्र में किसी भी प्रकार के हमलों का खंडन कर रहे थे।

संयुक्त अरब इमारात का निंदनीय बयान स्वतंत्र मीडिया की ओर से बंदरगाह पर धमाकों के हवाले से समाचार प्रकाशित किए जाने के कुछ घंटों के बाद सामने आया।

इससे पहले मीडिया में ख़बरे आ रही थीं कि 7 से 10 तेल टैंकरों को नुक़सान पहुंचा है। दूसरी ओर तेल टैंकर पर होने वाले हमल के बाद अंतर्राष्ट्रीय मंडी में तेल के मूल्यों में वृद्धि हो गयी है।

रोइटर्ज़ की रिपोर्ट के अनुसार कच्चा तेल सुबह तक 71.77 डॉलर प्रति बैरल था किन्तु अब उसमें 1.15 डॉलर की वृद्धि हो गयी।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*