?>

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री को 12 साल की सज़ा, आर्थिक घोटाले के दोषी

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री को 12 साल की सज़ा, आर्थिक घोटाले के दोषी

मलेशिया की एक अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज़्ज़ाक़ को सरकारी निवेश कोष से अरबों डॉलर के ग़बन के मामले में मंगलवार को दोषी क़रार देकर 12 साल जेल की सज़ा सुनाई है।

अदालत ने रज़्ज़ाक़ को सात मामलों में दोषी पाते हुए यह सज़ा सुनाई है। वे मलेशिया के पहले ऐसे नेता हैं जो दोषी क़रार दिए गए हैं। रज़्ज़ाक़ ने इस फ़ैसले को चुनौती देने की बात कही है। यह फ़ैसला नजीब की पार्टी के सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल होने के पांच महीने बाद आया है। अरबों डॉलर के घोटाले को लेकर जनता के ग़ुस्से के कारण सन 2018 में नजीब की पार्टी को सत्ता से बाहर होना पड़ा था। न्यायालय के जज मोहम्मद नज़लान ग़ज़ाली ने दो घंटे तक अपना फ़ैसला पढ़ने के बाद कहा कि आरोपी को दोषी पाया गया है और वे सभी सात आरोपों में उन्हें दोषी क़रार देते हैं।

 

नजीब ने अपने बयान में कहा है कि धूर्त बैंकरों ने अदालत को भटका दिया है और उनके ख़िलाफ़ मामला पूरी तरह से राजनैतिक है। नजीब रज़्ज़ाक़ ने कहा है कि उन्होंने कहा है कि वे उच्च न्यायालय में अपील करेंगे। याद रहे कि सन 2009 में नजीब रज़्ज़ाक़ ने प्रधानमंत्री रहते हुए मलेशिया के आर्थिक विकास में तेज़ी लाने के लिए एक फ़ंड बनाया था और उन पर उसी फ़ंड से अरबों डॉलर के ग़बन का आरोप लगा था।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*