?>

भारत के प्रधानमंत्री ने कश्मीरी नेताओं के साथ सर्वदलीय बैठक की

भारत के प्रधानमंत्री ने कश्मीरी नेताओं के साथ सर्वदलीय बैठक की

भारत के प्रधानमंत्री ने जम्मू- कश्मीर पर चर्चा करने के लिए गुरुवार को नई दिल्ली में कश्मीर के 14 नेताओं के साथ सर्वदलीय बैठक की।

भारत की विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के साथ ही जम्मू-कश्मीर के गुपकार गठबंधन के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ फ़ारूक़ अब्दुल्लाह, उमर अब्दुल्लाह, महबूबा मुफ़्ती और ग़ुलाम नबी आज़ाद भी इस बैठक में शामिल थे। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इस बैठक में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने स्वागत भाषण दिया और उसके बाद गत दो वर्षों में जम्मू-कश्मीर में किए गए विकास कार्यों के बारे में बताया गया।

इसके बाद एक एक कर जम्मू-कश्मीर के नेताओं ने अपनी बात रखी और अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी बात रखी।

पाँच अगस्त, 2019 को भारत की केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा ख़त्म कर दिया था। इसके बाद महबूबा मुफ़्ती और फ़ारूक़ अब्दुल्लाह, उमर अब्दुल्लाह सहित जम्मू-कश्मीर की मुख्यधारा के कई नेताओं को महीनों तक नज़रबंद रखा गया था।

अब लगभग दो साल बाद मोदी सरकार ने उन्हीं नेताओं को बुलाकर बातचीत की है।

बैठक से पहले जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फ़ारूक़ अब्दुल्लाह ने कहा था कि  "हम लोग मुद्दों पर बात करेंगे और उम्मीद करते हैं कि प्रधानमंत्री और गृह मंत्री उसे आराम से सुनेंगे फिर कोई ऐसा नतीजा निकालेंगे जिससे रियासत में अमन आए और लोग ख़ुशहाली में रह सकें" 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*