?>

भारत की मुस्लिम छात्राओं के समर्थन में सामने आए ईरान के सबसे बड़े छात्र संगठन, अल्लाहो अकबर हुआ ट्रेंड

भारत की मुस्लिम छात्राओं के समर्थन में सामने आए ईरान के सबसे बड़े छात्र संगठन, अल्लाहो अकबर हुआ ट्रेंड

इस्लामी गणतंत्र ईरान के कई बड़ी छात्र संगठनों ने हिजाब को लेकर अपने संवैधानिक अधिकारों के लिए संघर्ष कर रही भारतीय छात्राओं के समर्थन का एलान किया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, ईरान के छात्र और छात्राओं के कई बड़े संगठनों ने संयुक्त तौर पर एक बयान जारी करके कहा है कि हालिया दिनों में ईरानी राष्ट्र ऐसी स्थिति में इस्लामी क्रांति की सफलता की सालगिरह और शैतानी चंगुल से आज़ादी की प्राप्ति का जश्न मना रहा है कि जब भारत में हिजाब पहनने वाली मुस्लिम छात्राएं अपने मूल अधिकारों के लिए हर दिन संघर्ष कर रही हैं। इस बयान में आया है कि इस संघर्ष में स्वतंत्रता, दृढ़ता, मूल्यों का पालन, साहस और ईश्वर पर विश्वास महसूस किया जा सकता है। ग़ौरतलब है कि स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों सहित शैक्षणिक केंद्रों में हिजाब के साथ महिला छात्रों के प्रवेश पर प्रतिबंध के ख़िलाफ़ न केवल भारत बल्कि इस समय दुनिया के बहुत से देशों में विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। हिजाब पर प्रतिबंध के ख़िलाफ़ कर्नाटक की एक छात्रा जिस दिन से कट्टरपंथी हिन्दू संगठनों से जुड़े हुए लोगों के ख़िलाफ़ मज़बूती से खड़े होकर अल्लाहो अकबर का नारा दिया उस दिन से अल्लाहो अकबर का यह नारा पूरी दुनिया में हैशटैग बनकर ट्रेंड कर रहा है।

मुस्कान खान भारतीय मुस्लिम छात्रा जिसपर भगवाधारी गुंड़े हमला कर रहे हैं।

ईरान छात्र और छात्रों के संगंठन के बयान में आया है कि लोकतांत्रिक सरकार की इस्लाम विरोधी चरमपंथी नीति पर कर्टनाटक की मुस्कान नामक छात्रा की साहसी आपत्ति ने उसे इस्लामी दुनिया में स्वतंत्रता का प्रतीक बना दिया है। ईरानी छात्र संघों ने हिजाब पहनने वाली छात्राओं के ख़िलाफ उठाए गए शत्रुतापूर्ण क़दम की निंदा की है और विदेश मंत्रालय से इस घटना पर संज्ञान लेने और भारतीय छात्राओं का समर्थन करने का आह्वान किया है। उल्लेखनीय है कि दक्षिणी भारत के कर्नाटक राज्य के मांड्या क़स्बे में एक हिजाब पहने मुस्लिम छात्रा के साथ दर्जनों भगवाधारी गुंडों ने हमला बोल दिया था लेकिन मुस्लिम छात्रा ने बिना डरे उन गुंडो का मुक़ाबला किया और अल्लाहो अकबर का नारा बुलंद किया। जिसके बाद से भारत की मुस्कान खान नामक मुस्लिम छात्रा पूरी दुनिया में हिजाब पहनने वाली महिलाओं और विशेष रूप से छात्राओं के बीच होरी बन गई। बता दें कि भारत के कुछ स्कूलों और कॉलेजों द्वारा मुस्लिम महिलाओं, लड़कियों और ख़ासकर छात्राओं के लिए हिजाब पर लगाए जा रहे प्रतिबंध इस देश के संविधान के बिल्कुल विपरीत हैं और असंवैधानिक है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*