?>

बहरैन, आलेखलीफ़ा द्वारा सरकार विरोधियों को सज़ाए मौत देने का सिलसिला जारी

बहरैन, आलेखलीफ़ा द्वारा सरकार विरोधियों को सज़ाए मौत देने का सिलसिला जारी

बहरैन में आले ख़लीफ़ा की कठपुतली अदालतों ने दो सरकार विरोधियों को दो पुलिसकर्मियों की हत्या के झूठे आरोप में मौत की सज़ा सुनाई है।

बहरैन में आले ख़लीफ़ा की कठपुतली अदालतों ने दो सरकार विरोधियों को दो पुलिसकर्मियों की हत्या के झूठे आरोप में मौत की सज़ा सुनाई है।
बहरैन में आले ख़लीफ़ा की तानाशाही सरकार ने बुधवार को सरकार विरोधियों के ख़िलाफ़ अन्यायपूर्ण फ़ैसले सुनाने का सिलसिला जारी रखते हुए दो निर्दोष नागरिकों मुहम्मद इब्राहीम तौक़ और मुहम्मद रज़ी अब्दुल्लाह को दो पुलिसकर्मियों की हत्या के निराधार आरोप के अंतर्गत मौत की सज़ा और अन्य आठ लोगों की नागरिकता रद्द करने का फ़ैसला सुनाया है। बहरैन की अपील कोर्ट ने भी इस देश की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी जमीअते वेफ़ाक़ के एक नेता और धर्मगुरू शैख़ हसन ईसा को भी इन दो पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में दोषी क़रार दिया है और उन्हें दस साल क़ैद की सज़ा सुनाई है।
ज्ञात रहे कि आले ख़लीफ़ा सरकार, बहरैन में सरकार विरोधी प्रदर्शनों का सिलसिला रोकने के लिए देश के कई नेताओं को गिरफ्तार कर चुकी है और उन पर झूठे मामलों में मुक़द्दमे चलाकर मौत और लंबी अवधि की सज़ाएं सुना रही है।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*