?>

फ्रांस और ब्रिटेन ने भी कर दी इस्राईल की आलोचना!

फ्रांस और ब्रिटेन ने भी कर दी इस्राईल की आलोचना!

फ्रांस और ब्रिटेन ने फिलिस्तीन के अवैध अधिकृत क्षेत्रों में इस्राईल द्वारा काॅलोनी निर्माण को अंतरराष्ट्रीय नियमों के विपरीत बताते हुए उसकी कड़े शब्दों में आलोचना की है।

अलमयादीन टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार फ्रांस के विदेशमंत्रालय ने एक बयान जारी करके बैतुलमुक़द्दस के पूर्वी भाग में 800  नये घर बनाने के इस्राईल के फैसले की आलोचना की है। 

ब्रिटिश विदेशमंत्रालय में मध्य पूर्व के प्रभारी एन्ड्रू मॅारीसन ने भी एक बयान जारी करके पूर्वी बैतुलमुकद्दस में गैर कानूनी तौर पर यहूदी कालोनी निर्माण पर चिंता प्रकट की है।

उन्होंने अपने बयान में कहा है कि फिलिस्तीनियों की भूमि में इस्राईल द्वारा काॅलोनी निर्माण, अतंरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन और दोनों पक्षों के मध्य विवाद के समाधान के मार्ग में बाधा है। 

अरब संघ ने भी पूर्वी बैतुलमुकद्दस में कॅालोनी निर्माण का कड़ा विरोध किया है और इसे बैतुलमुकद्दस की घेराबंदी और फिलिस्तीनियों को बाहर निकालने का एक हथकंडा बताया है। 

हालांकि संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद ने दिसंबर 2016 में इस्राईल द्वारा कॅालोनी निर्माण के विरोध में प्रस्ताव क्रमांक 2334 पारित किया था  और निर्माण रोकने की मांग की थी किंतु अमरीका के भरपूर समर्थन की वजह से इस्राईल, संयुक्त राष्ट्र संघ के फैसले को महत्व नहीं देता। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*