?>

फ़िलिस्तीन के समर्थन में पूरी दुनिया, कितने दिन दुनिया के सामने टिक पाएगा इस्राईल?

फ़िलिस्तीन के समर्थन में पूरी दुनिया, कितने दिन दुनिया के सामने टिक पाएगा इस्राईल?

ग़ज़्ज़ा और अवैध अधिकृत बैतुल मुक़द्दस में फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ इस्राईल के अपराधों की दुनिया भर में निंदा की जा रही है और फ़िलिस्तीनियों से एकजुटता का ऐलान हो रहा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने फ़िलिस्तीन में इस्राईल के हमलों की कड़ी निंदा करते हुए और फ़िलिस्तीनियों से एकजुटता जताते हुए कहा है कि मैं पाकिस्तान का प्रधानमंत्री हूं और हम ग़ज़्ज़ा और फ़िलिस्तीन के साथ खड़े हैं। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के सलाहकार ताहिर अशरफ़ी ने बताया है कि शुक्रवार को पूरे देश में फ़िलिस्तीनी जनता से एकजुटता दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस समय भी पाकिस्तान में इस्राईल के अपराधों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन हो रहे हैं।

यमन के अंसारुल्लाह आंदोलन के प्रमुख अब्दुल मलिक बदरुद्दीन अलहूसी ने कहा है कि यमनी, फ़िलिस्तीनियों द्वारा इस्राईली हमलों का बहादुरी से मुक़ाबला किए जाने की सराहना करते हैं और उनकी मदद करने के लिए पूरी तरह अलर्ट हैं। उन्होंने कहा कि हम फ़िलिस्तीनी प्रतिरोधकर्ता गुटों के साथ पूरी तरह समन्वित रहेंगे।

इराक़ के राष्ट्रपति ने भी फ़िलिस्तीन की जनता के दुखों और उसके अधिकारों के समर्थन के लिए साझा रूप से व्यवहारिक क़दम उठाए जाने पर बल दिया है। बरहम सालेह ने फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख महमूद अब्बास से टेलीफ़ोन पर बात करते हुए ज़ायोनी शासन द्वारा फ़िलिस्तीनी जनता के दमन की कड़ी निंदा की।

एमनेस्टी इंटरनेश्नल ने इस्राईल से मांग की है कि वे शैख़ जर्राह मुहल्ले से फ़िलिस्तीनियों को ज़बरदस्ती बाहर निकालने का काम तुरंत बंद करे। उसने इसी तरह ज़ायोनी काॅलोनियों के निर्माण और विस्तार पर रोक लगाए जाने की मांग की है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जाॅन्सन ने ज़ायोनी शासन और फ़िलिस्तीन के प्रतिरोधकर्ता गुटों के बीच टकराव पर गहरी चिंता जताते हुए सभी पक्षों से अपील की है कि वे तनाव कम करके युद्ध के मुहाने पर पहुंचने की स्थिति से पीछे हट जाएं।

ऑस्ट्रेलिया के लोगों ने भी सिडनी में एकत्रित हो कर फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ ज़ायोनी शासन के अपराधों की निंदा की और अवैध इस्राईली शासन के झंडे को आग लगा दी। इसके अलावा दुनिया के बहुत से इस्लामी व ग़ैर इस्लामी देशों में फ़िलिस्तीनियों के समर्थन और इस्राईल के विरोध में प्रदर्शन हुए हैं। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*