?>

प्रतिरोध के मोर्चे की उपलब्धियां, शहीद सुलैमानी की हत्या की अस्ल वजहः हिज़्बुल्लाह

प्रतिरोध के मोर्चे की उपलब्धियां, शहीद सुलैमानी की हत्या की अस्ल वजहः हिज़्बुल्लाह

हिज़बुल्लाह की कार्यकारी परिषद के प्रमुख का कहना है कि विभिन्न मोर्चों पर प्रतिरोध के मोर्चे की व्यापक उपलब्धियों के कारण ही अमरीका ने जनरल सुलैमानी को शहीद किया।

अलमनार टीवी चैनेल की रिपोर्ट के अनुसार सैयद हाशिम सफ़ियुद्दीन ने जनरल क़ासिम सुलैमानी और उनके साथियों की शहादत की पहली बरसी के अवसर पर उनके बारे में एक इंटरव्यू दिया है। उन्होंने इस इंटरव्यू में कहा कि इराक़ में दाइश पर विजय वैसे तो वहां के स्वयंसेवी संगठन हश्दुश्शाबी के अथक प्रयासों से हासिल की गई किंतु वह व्यक्ति जिसने सबसे पहले दाइश के विरुद्ध मोर्चा खोला वह शहीद क़ासिम सुलैमानी थे। हिज़बुल्लाह की कार्यकारी परिषद के प्रमुख ने याद दिलाया कि शहीद क़ासिम सुलैमानी बहुत ही सक्रिय, दूरदर्शी और योजनाकार व्यक्ति थे और इससे कोई भी इन्कार नहीं कर सकता।

 

याद रहे कि संयुक्त राज्य अमरीका की आतंकी सेना ने पिछले साल 3 जनवरी 2019 को बग़दाद हवाई अड्डे के क़रीब उस कार पर ड्रोन हमला कर दिया था जिसमें जनरल क़ासिम सुलैमानी और अबू महदी अलमोहंदिस सवार थे।  इस अमरीकी हमले में दोनों महान हस्तियां शहीद हो गईं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*