?>

पाबंदियों के बावजूद ईरान ने कोरोना के सबसे प्रभावी टीकों में से एक बनाने का कारनामा कर दिखाया

पाबंदियों के बावजूद ईरान ने कोरोना के सबसे प्रभावी टीकों में से एक बनाने का कारनामा कर दिखाया

ईरान ने कोरोना के सबसे प्रभावी टीकों में से एक बनाने का कारनामा किया है।

ईरान के स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि देश के पास्चर इंस्टीट्यूट ने दुनिया में कोरोना के सबसे ज़्यादा असरदार टीकों में से एक बनाने में सफलता हासिल की है।

सईद नमकी ने इस्फ़हान की मेडिकल यूनिवर्सिटी में ईरान के पास्चर इंस्टीट्यूट और क्यूबा के फ़िन्लाय इंस्टीट्यूट के कोरोना के टीके का तीसरा क्लीनिकल ट्रायल शुरू होने के समारोह में कहाः जो देश टीका बनाने में सफल हो जाता है उसके पास बहुत सी नई टेक्नॉलोजी आ जाती है और इस क्षेत्र में हम सफल देशों में से एक हैं।

ईरान के स्वास्थ्य मंत्री ने बल दियाः आज टीका बनाने के क्षेत्र में सक्रिय सिपाहियों ने अपना कारनामा कर दिखाया और ईरान क्षेत्र में, कोविड-19 का टीका बनाने के क्षेत्र में सबसे सफल देश है।

उन्होंने इस बात पर बल दिया कि पास्चर इंस्टीट्यूट के कोरोना के टीके के क्लीनिकल ट्रायल में शामिल होने वालों ने दुनिया वालों को बता दिया कि उन्हें इस काम पर भरोसा है। सईद नमकी ने कहाः पास्चर इंस्टीट्यूट में कोरोना के टीके के पहले और दूसरे चरण का गहन अध्ययन किया, टीका बहुत असरदार है, यह चरण सफलता के साथ अंजाम पाया और अब पूरे संतोष के साथ हमने तीसरे चरण की इजाज़त दी।

ईरान के स्वास्थ्य मंत्री ने कहाः हमने कोरोना को क़ाबू करने का बहुत ही वैज्ञानिक तरीक़ा अपनाया, हालांकि हमारे हाथ बंधे हुए थे, लेकिन सभी पाबंदियों और दबावों के बावजूद अपनी आंख खुली रखी। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*