?>

पाकिस्तान, बलोचिस्तान में भयानक घटना, 11 लोगों का सिर क़लम, गुनाह, शिया मुसलमान होना

पाकिस्तान, बलोचिस्तान में भयानक घटना, 11 लोगों का सिर क़लम, गुनाह, शिया मुसलमान होना

पाकिस्तान में 11 हज़ारा शिया मुसलमानों की नृशंस हत्या के बाद, इस भयानक अपराध की आलोचना का क्रम जारी है।

पाकिस्तान के वरिष्ठ शिया धर्म गुरु अल्लामा नासिर अब्बास जाफरी ने इन खान मज़दूरों की हत्या को जातीय सफाया और अमानवीय अपराध बताया। 

एमडब्ल्यूएम के महासचिव ने खान मज़दूरों की हत्या की कड़े शब्दों में आलोचना करते हुए पाकिस्तान की सरकार से मांग की है कि वह इस हत्याकांड के ज़िम्मेदारों को यथाशीघ्र गिरफ्तार करे। 

उन्होंने इसी तरह पाकिस्तान सरकार से मांग की कि इस हत्या के मुख्य ज़िम्मेदारों और पाकिस्तान में तकफीरी आतंकवादियों  की गतिविधियों के खिलाफ सरकार ठोस  क़दम उठाए। 

उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर पाकिस्तान सरकार, हज़ारा शिया खान मज़दूरों के क़ातिलों को गिरफ्तार नहीं करती और हज़ारा शियों की सुरक्षा को सुनिश्चित नहीं बनाती तो सोमवार से पूरे देश में धरना आरंभ हो जाएगा। 

बलोचिस्तान में इस हत्याकांड के तत्काल बाद ही हज़ारों लोगों ने सड़कों पर निकल कर हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की। 

कुछ आतंकवादियों ने पिछली रात, पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रांत के "मच" इलाक़े में एक कोयला खान पर हमला करके 11 शिया खान मज़दूरों 

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अलवी ने भी बलोचिस्तान में शिया खान मज़दूरों की कायरतापूर्ण हत्या की आलोचना करते हुए विश्वास दिलाया है कि ज़िम्मेदारों का गिरफ्तार और उन्हें कड़ी सज़ा दी जाएगी। 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी शिया खान मज़दूरों की हत्या की आलोचना की और सुरक्षा संस्थाओं से कहा कि वह पूरी शक्ति के साथ इस हत्याकांड के ज़िम्मेदारों को तलाश करें। 

पिछले कुछ महीनों से पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रांत में हिंसक घटनाओं की लहर आयी है। 

दाइश ने खान मज़दूरों की हत्या की ज़िम्मेदारी स्वीकार की है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*