बहरैन, आले ख़लीफ़ा ने नहीं दी माँओं को जनाज़े पर आने की इजाज़त।

बहरैन, आले ख़लीफ़ा ने नहीं दी माँओं को जनाज़े पर आने की इजाज़त।

वहाबी हत्यारों ने शहीदों के घर वालों विशेषकर महिलाओं को धमकी दी है कि अगर वह उनके दफन करते वक़्त क़ब्रिस्तान के आसपास भी दिखाई दी तो गोलियों का निशाना बनाया जाएगा।

बहरैन के अत्याचारी शासक आले खलीफा के जल्लादों के हाथों शहीद होने वाले ३ लोगों के शवों को देने से मना करने के बाद वहाबी हत्यारों ने शहीदों के घर वालों विशेषकर महिलाओं को धमकी दी है कि अगर वह उनके दफन करते वक़्त क़ब्रिस्तान के आसपास भी दिखाई दी तो गोलियों का निशाना बनाया जाएगा।
सूत्रों के अनुसार वहाबी अधिकारियों ने शहीदों की माँओं को धमकी दी है कि लाशों को दफनाते वक़्त जनाज़े के पास या क़ब्रिस्तान के निकट आने की कोशिश में भी उन्हें गोलियों का निशाना बनाया जा सकता है ।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

*शहादत स्पेशल इश्यू*  शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी व अबू महदी अल-मुहंदिस
conference-abu-talib
We are All Zakzaky