म्यांमार, सेना ने रोहिंग्या मुसलमानों के 40 गाँव जला डाले।

म्यांमार, सेना ने रोहिंग्या मुसलमानों के 40 गाँव जला डाले।

ह्यूमन राइट्स वॉच ने कहा है कि अक्टूबर से नवम्बर के बीच म्यांमार में सेना ने रोहिंग्या मुसलमानों के 40 गाँव जला डाले है।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: रिपोर्ट के अनुसार ह्यूमन राइट्स वॉच ने कहा है कि अक्टूबर से नवम्बर के बीच म्यांमार में सेना ने रोहिंग्या मुसलमानों के 40 गाँव जला डाले है।
ह्यूमन राइट्स वॉच एशिया के डायरेक्टर ब्रीड ऐडम्ज़ ने कल कहा कि उपग्रहों द्वारा ली गई तस्वीरों के आधार पर हिंसक वारदातों की जांच की गई जिससे पता चला कि अक्टूबर और नवम्बर के बीच यह गाँव जलाए गए हैं। उन्होंने कहा कि रोहिंग्या मुसलमानों को लगातार समाप्त किए जाने से पता चलता है कि जिला वतन किए गए शरणार्थियों की सुरक्षित वापसी को यकीनी बनाए जाने का प्रतिबद्ध केवल एक दिखावा था।  
मिस्टर ऐडम्ज़ ने कहा कि जांच से पता चला है कि रोहिंग्या के गाँव को लगातार बर्बाद किया जा रहा है जबकि सेना इसको रद्द कर रही है। संगठन नें म्यांमार की सेना पर सैन्य कार्यवाही के दौरान हत्या और बलात्कार सहित कई तरह के अत्याचार का आरोप लगाया है।
गौरतलब कि म्यांमार की सेना की ओर से 25 अगस्त से शुरू किए गए अक्रामक सैन्य अभियान के बाद लगभग 6 लाख 55 हज़ार रोहिंग्या मुसलमानों को अपनी जान बचा कर बंग्लादेश जाने पर मजबूर होना पड़ा है।



सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

قدس راه شهداء
*शहादत स्पेशल इश्यू*  शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी व अबू महदी अल-मुहंदिस
conference-abu-talib
We are All Zakzaky