?>

अमेरिकी वीटो ने किया फ़िलिस्तीनी जनता के अधिकारों का अपमान।

अमेरिकी वीटो ने किया फ़िलिस्तीनी जनता के अधिकारों का अपमान।

हिज़्बुल्लाह लेबनान ने अपने एक बयान में सुरक्षा परिषद में अधिकृत बैतुल मुक़द्दस से संबंधित मिस्र की ओर से प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव को वीटो करने पर अमेरिका की निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका ने वीटो के द्वारा फ़िलिस्तीनी जनता के अधिकारों को पामाल और विश्व समुदाय का अपमान किया है।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: हिज़्बुल्लाह लेबनान ने अपने एक बयान में सुरक्षा परिषद में अधिकृत बैतुल मुक़द्दस से संबंधित मिस्र की ओर से प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव को वीटो करने पर अमेरिका की निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका ने वीटो के द्वारा फ़िलिस्तीनी जनता के अधिकारों को पामाल और विश्व समुदाय का अपमान किया है।
अलमेनार की रिपोर्ट के अनुसार हिज़्बुल्लाह लेबनान में अपने एक बयान में सुरक्षा परिषद में अधिकृत बैतुल मुक़द्दस से संबंधित मिस्र की ओर से प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव को वीटो करने पर अमेरिका की निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका इस्राईल का समर्थक है और उससे फ़िलिस्तीनी समस्या के समाधान के बारे में किसी भी तरह की उम्मीद लगाना ग़लत होगा। इसलिए कि अमेरिका फिलिस्तीनी जनता पर होने वाले इस्राईली अत्याचारों में बराबर का भागीदार है।
हिज़्बुल्लाह ने कहा की अरब देशों को अपनी ग़ैरत और आत्मसम्मान का सुबूत देते हुए अमेरिका और इस्राईल के पिठ्ठू अरब शासकों के विरुद्ध आवाज उठानी चाहिए और अमेरिका के हाथों अरब राष्ट्र के सम्मान को पामाल करने की अनुमति नहीं देनी चाहिए।


सम्बंधित लेख

अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*