?>

पवित्र नगर कर्बला के मेयर का हत्यारा गिरफ्तार

पवित्र नगर कर्बला के मेयर का हत्यारा गिरफ्तार

पवित्र नगर कर्बला के गवर्नर ने इस नगर के मेयर अबीर सलीम के हत्यारे की गिरफ्तारी की सूचना दी है।

इसी प्रकार इराक से प्राप्त समाचारों के अनुसार यह देश निकट भविष्य में ईरान, सऊदी अरब, तुर्की, कतर, मिस्र और जार्डन जैसे देशों की नेताओं की मेज़बानी करेगा। रिपोर्टों के अनुसार इन देशों के नेताओं की उपस्थिति में जो कांफ्रेन्स होने वाली है उसका लक्ष्य क्षेत्र के संयुक्त उद्देश्यों को व्यवहारिक बनाने के लिए प्रयास करना है।

अलबत्ता प्राप्त समाचार इस बात के सूचक हैं कि फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रां भी बग़दाद में होने वाली कांफ्रेन्स में भाग लेंगे। इस बात के दृष्टिगत प्रतीत यह हो रहा है कि निकट भविष्य में बगदाद में होने वाली कांफ्रेन्स में इराक से अमेरिकी सैनिकों के निष्कासन के विषय पर भी चर्चा होगी।

ज्ञात रहे कि इराकी संसद ने तीन जनवरी 2020 को एक प्रस्ताव पारित किया था जिसके अनुसार इराक से अमेरिकी सैनिकों के निष्कासन को अनिवार्य किया गया था परंतु अभी तक यह प्रस्ताव क्रियान्वित नहीं किया गया है और इराकी गुट और राजनीतिक पार्टियां यथावत इराक से अमेरिकी सैनिकों के निष्कासन की आवश्यकता पर बल दे रही हैं।

इराक की सुरक्षा स्थिति काफी विषम हो गयी है और आगामी 10 अक्तूबर को इस देश में संसदीय चुनाव होने वाले हैं। अभी हाल ही में इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफ़ा अलकाज़िमी अमेरिका गये थे जहां वाशिंग्टन में उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मुलाक़ात की थी और मुलाकात के बाद एलान किया था कि जारी वर्ष के अंत तक इराक से अमेरिकी सैनिक निकल जायेंगे परंतु बाइडेन की बातचीत से जो चीज़ प्रतीत हो रही है वह यह है कि उन्होंने इराक से समस्त अमेरिकी सैनिकों के निष्कासन की बात नहीं की है।

इसका अर्थ यह है कि जारी वर्ष के अंत तक समस्त अमेरिकी सैनिक और ठीकेदार इराक से बाहर नहीं जायेंगे। इस आधार पर प्रतीत यह हो रहा है कि अमेरिकी हर संभव स्थिति में इराक में अपनी उपस्थिति को बनाये रखना चाहते हैं और इसी कारण वे इराक के सुरक्षा परिवर्तनों से अपने हित में लाभ उठाने के प्रयास में हैं। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*