?>

पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दुबई ने रमज़ान के सम्मान को किया अनदेखा

पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दुबई ने रमज़ान के सम्मान को किया अनदेखा

नए सरकारी आदेश के अनुसार दुबई में अब रमज़ान के दौरान रेस्टोरेंटों को पर्दे से ढकने की अनिवार्यता ख़त्म हो गई।

दुबई के आर्थिक विकास विभाग ने पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से रविवार को घोषणा की है कि अब वहां पर मुसलमानों के पवित्र महीने रमज़ान के दौरान रेस्टोरेंट और उन दुकानों को पर्दे से ढकना अनिवार्य नहीं है जहां खानेपीने का सामान बेचा जाता हैं।

पीटीआई के अनुसार सरकारी समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम ने एलान किया है कि रेस्तरां अपने यहां पर्दे लगाए बिना ही ग्राहकों को भोजन परोस सकेंगे। यह नया आदेश पहले के वर्षों में जारी उन आदेशों का स्थान ले लेगा जिनके तहत रोजा रखने वालों की खातिर खानपान वाले हिस्सों को ढकना आवश्यक हुआ करता था।  नए नियमों के तहत दिन के वक्त भोजन परोसने के लिए अब रेस्तरां को पहले की तरह विशेष परमिट लेने की भी जरूरत नहीं होगी।

याद रहे कि अधिकांश मुसलमान देशों और उन क्षेत्रों में जहां पर बड़ी संख्या में मुसलमान रहते हैं, रमज़ान के पवित्र महीने में इस महीने के सम्मान में दिन के समय खाने-पीने का सामान बेचने वाली दुकानों को या तो बंद कर दिया जाता है या फिर वहां पर पर्दा लगा दिया जाता है किंतु पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दुबई ने रमज़ान से संबन्धित नियमों में बदलाव किया है।

उल्लेखनीय है कि विश्व के बहुत से देशों में 13 अप्रैल 2021 से पवित्र रमज़ान का महीना आरंभ हुआ है जबकि कुछ स्थानों पर 14 अप्रैल से आरंभ होगा।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*