?>

परमाणु समझौते में शामिल देश ईरान की जवाबी कार्यवाही के लिए तैयार रहें, ईरानी सांसद

परमाणु समझौते में शामिल देश ईरान की जवाबी कार्यवाही के लिए तैयार रहें, ईरानी सांसद

ईरान के सांसदों ने पूरक प्रोटोकोल पर स्वेच्छा से पालन पर रोक की आवश्यकता पर बल दिया है।

ईरान की इस्लामी संसद के सांसदों ने रविवार को एक बयान जारी करके पूरक प्रोटोकोल पर स्वेच्छा से पालन पर रोक की आवश्यकता पर बल दिया है।

इस बयान में कहा गया है कि यह पालन, 23 फरवरी 2021 से रोका जाएगा।  सांसदों के बयान में यह भी कहा गया है कि अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेन्सी आईएईए के निरीक्षण को भी सीमित किया जाएगा।  बयान के अनुसार आईएई ने विभिन्न चरणों में 15 बार इस बात की पुष्टि की है कि ईरान ने जेसीपीओए के संदर्भ में अपनी ज़िम्मेदारी उचित ढंग से निभाई है जबकि हम देख रहे हैं कि ईरानी राष्ट्र के शत्रुओं ने अपने किसी भी वचन को पूरा नहीं किया है।

ईरान के सांसदों ने बल देकर कहा है कि अपने परमाणु अधिकारों की रक्षा करने और ईरानी राष्ट्र के शत्रुओं को सतर्क करने के उद्देश्य से यूरेनियम का बीस प्रतिशत संवर्धन आरंभ किया जाएगा।  ईरान की संसद ने सरकार को प्रतिबंधों को समाप्त करने के लिए क़ानून पारित करने को कहा है कि अमरीकी प्रतिबंधों के चलते अन्तर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेन्सी आईएईए के साथ सहयोग को सीमित किया जाए। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

پیام رهبر انقلاب به مسلمانان جهان به مناسبت حج 1441 / 2020
conference-abu-talib
We are All Zakzaky
सेंचुरी डील स्वीकार नहीं