?>

पत्रकारों पर भड़का तालेबान का वार्ताकार, 40 साल से जारी संकट को कुछ दिन में हल नहीं किया जा सकता

पत्रकारों पर भड़का तालेबान का वार्ताकार, 40 साल से जारी संकट को कुछ दिन में हल नहीं किया जा सकता

तालेबान ने कहा है कि 40 साल से जारी अफ़ग़ान संकट को कम अवधि में हल करना असंभव नहीं है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार दोहा में तालेबान के राजनैतिक कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद नईम वरदक ने तालेबान और अफ़ग़ान सरकार की संपर्क समितियों के बीच वार्ता में गतिरोध का उल्लेख करते हुए कहा कि विभिन्न विषयों की समीक्षा के लिए वार्ता का क्रम रुक जाना सामान्य सी बात है।

उन्होंने कहा कि कुछ एक बैठकों में किसी समझौते तक पहुंचना कठिन होता है।

तालेबान के प्रवक्ता ने अफ़ग़ान इंट्रा वार्ता में पाए जाने वाले गतिरोध के बारे में सूचना देने के बारे में पत्रकारों की अपील पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सारी बातें मीडिया के सामने बयान नहीं की जा सकतीं।

उन्होंने कहा कि अगर सारी बातें मीडिया के सामने बयान करना लक्ष्य हो तो फिर वार्ताकार प्रतिनिधि मंडल की ज़रूरत बाक़ी नहीं रहेगी, इसीलिए धैर्य से काम लेना होगा क्योंकि संभव है कि हम अपनी मंज़िल पर न पहुंच पाएं।

तालेबान के प्रवक्ता मुहम्मद नई वरदक का कहना था कि अफ़ग़ान इंट्रा वार्ता में अमरीका या किसी दूसरे पक्ष की मध्यस्थता की आवश्यकता नहीं है और वार्ता करने वाले दोनों पक्ष, इस बात पर पूरी तरह सहमत हैं कि आपसी वार्ता में किसी तीसरे पक्ष को शामिल न किया जाए।

ज्ञात रहे कि तालेबान और अफ़ग़ान सरकार के प्रतिनिधि मंडलों के बीच वार्ता का क्रम 12 सितम्बर से क़तर की राजधानी दोहा में शुरु हुआ था किन्तु दोनों पक्षों के बीच शांति वार्ता को आगे बढ़ाने की कार्यशैली और एजेन्डे के बारे में अभी तक कोई सहमति नहीं बन सकी है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*