?>

नई दिल्ली की यात्रा के दौरान ईरानी विदेश मंत्री ने उठाया पैग़म्बरे इस्लाम के अनादर का मुद्दा

नई दिल्ली की यात्रा के दौरान ईरानी विदेश मंत्री ने उठाया पैग़म्बरे इस्लाम के अनादर का मुद्दा

ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान ने भारत की अपनी यात्रा के दौरान एक ट्वीट करके कहा है कि तेहरान और नई दिल्ली ने सभी धर्मों और इस्लामी मान्यताओं के सम्मान और ऐसी बातों से परहेज़ करने की ज़रूरत पर बल दिया है, जिससे आपसी सौहार्द बिगड़ता है।

ग़ौरतलब है कि भारत की सत्ताधारी पार्टी के दो नेताओं ने पिछले दिनों में पैग़म्बरे इस्लाम (स) के बारे में अभद्र और अपमानजनक टिप्पणी की थी, जिसका भारत में और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कड़ा विरोध हुआ था।

मुसलमानों और मुस्लिम देशों के कड़े विरोध के बाद, बीजेपी ने पैग़म्बरे इस्लाम का अपमान करने वाले अपने दोनों नेताओं को पार्टी से निकाल दिया था।   

बीते रविवार को ही ईरान के विदेश मंत्रालय ने भारतीय राजदूत को तलब किया था और पैग़म्बरे इस्लाम के ख़िलाफ़ अपमानजनक टिप्पणी के प्रति आपत्ति दर्ज कराई थी। ईरान के अलावा कई मुस्लिम और अरब देशों ने भी इस पर आधिकारिक तौर पर विरोध दर्ज कराया था।

बीजेपी ने बढ़ते विरोध के दबाव में अपने एक प्रवक्ता को निलंबित और दूसरे को निष्कासित कर दिया था।

बीते साल ईरान के विदेश मंत्री का पदभार संभालने के बाद अमीर अब्दुलाहियान का भारत का यह पहला दौरा है।

उन्होंने अपने ट्वीट में भारतीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और विदेश मंत्री एस. जयशंकर के साथ मुलाक़ात पर ख़ुशी ज़ाहिर की है।

ईरानी विदेश मंत्री की अपने भारतीय समकक्ष से मुलाक़ात के दौरान, नागरिक और व्यावसायिक मामलों में परस्पर सहयोग के संबंध में एक समझौते पर हस्ताक्षर भी हुए।

ईरान के विदेश मंत्री ने अजित डोभाल के साथ मुलाक़ात में सत्ताधारी पार्टी के सदस्यों की ओर से दिए गए विवादित बयानों का मुद्दा उठाया, जिस पर भारतीय एनएसए ने स्पष्टीकरण दिया और उन्हें इन सदस्यों के ख़िलाफ़ कार्यवाही से अवगत करवाया।

भारतीय अधिकारियों के साथ ईरानी विदेश मंत्री की मुलाक़ात में चाबहार बंदरगाह, अंतरराष्ट्रीय नॉर्थ-साउथ ट्रांसपोर्ट कॉरिडोर के साथ-साथ व्यापार और निवेश जैसे मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान हुआ। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*