?>

तीन पूर्व लेबनानी प्रधानमंत्री एक साथ रियाज़ पहुंचे, राजनैतिक हल्क़ों में विभिन्न सवाल सामने आए।

तीन पूर्व लेबनानी प्रधानमंत्री एक साथ रियाज़ पहुंचे, राजनैतिक हल्क़ों में विभिन्न सवाल सामने आए।

सऊदी अरब ने तीन पूर्व लेबनानी प्रधानमंत्रियों को एक साथ रियाज़ बुलाया है जिसके बाद मीडिया में तरह तरह के सवाल सामने आ रहे हैं।

लेबनान की सरकारी समाचार एजेंसी ने रिपोर्ट दी है कि इस देश के तीन पूर्व प्रधानमंत्री सऊदी अरब के शासक और अन्य उच्चाधिकारियों से मुलाक़ात के लिए एक साथ रियाज़ पहुंचे हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार नजीब मीक़ाती, फ़ुआद सिन्यूरा और तम्माम सलाम सोमवार की सुबह सऊदी अरब पहुंचे जहां वे विभिन्न विषयों पर इस देश के नरेश सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ और कुछ अन्य उच्चाधिकारियों से विचार-विमर्श करेंगे। समाचार एजेंसी ने इस यात्रा और इसमें होने वाली वार्ता के संभावित विषयों के बारे में क ोई संकेत नहीं किया है लेकिन ऐसा प्रतीत होता है कि यह यात्रा, लेबनान में प्रतिरोध के मोर्चे पर दबाव डालने और इस देश के राजनैतिक धड़ों के बीच मतभेद पैदा करने की सऊदी अरब की कोशिशों के परिप्रेक्ष्य में हो रही है।

 

क्षेत्रीय मामलों के कुछ टीकाकारों का कहना है कि लेबनान के इन तीन बड़े नेताओं को एक साथ रियाज़ बुलाने का उद्देश्य, बैरूत के बारे में सऊदी अरब की रणनीति में संभावित परिवर्तन पर विचार-विमर्श करना है। इन टीकाकारों का मानना है कि सऊदी अरब ने लेबनान के राजनैतिक दलों व गुटों को अपने सामने झुकाने के लिए कोई नई योजना बनाई है। लेबनान के राजनैतिक हल्क़ों और मीडिया में भी इस यात्रा के बारे में तरह तरह के सवाल समाने आ रहे हैं। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*