?>

तालेबान पर मेहरबान हुए ब्रिटेन के सेना प्रमुख, जाॅनसन भी तालेबान के साथ काम करने को तैयार

तालेबान पर मेहरबान हुए ब्रिटेन के सेना प्रमुख, जाॅनसन भी तालेबान के साथ काम करने को तैयार

ब्रिटेन के सेना प्रमुख नेक कार्टर ने कहा है कि तालेबान को एक मौक़ा ज़रूर दिया जाए हो सकता है कि वे सुधर गए हों।

नेक कार्टर के अनुसार दुनिया को चाहिए कि वह तालेबान को एक नई सरकार बनाने का अवसर दे क्योंकि हो सकता है कि जिन लोगों को पश्चिम पिछले कई दशकों से आतंकवादी कहता आया है, उनके व्यवहार में परिवर्तन आ चुका हो।

उन्होंने कहा कि मैं अफ़ग़ानिस्तान के भूतपूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई के साथ संपर्क में हूं जो तालेबान से मुलाक़ातें कर रहे हैं।  बीबीसी से बात करते हुए ब्रिटेन के सेना प्रमुख ने कहा कि हमको धैर्य से काम लेते हुए अपने ऊपर कंट्रोल रखना होगा। कार्टर के अनुसार तालेबान को एक अवसर दिया जाए क्योंकि हो सकता है कि वे 90 के दशक वाले तालेबान से बिल्कुल अलग हों।  ब्रिटेन के सेना प्रमुख नेक कार्टर ने यह बात ज़ोर देकर कही कि हो सकता है कि तालेबान अब बहुत बदल चुके हों और वे बुद्धि का सुबूत दें।

तालेबान के बारे में ब्रिटेन के सेना प्रमुख नेक कार्टर की इन बातों के बावजूद ब्रिटेन के कई पूर्व और वर्तमान सैन्य अधिकारियों ने तालेबान की नियत पर शक दर्शाया है।  अफ़ग़ानिस्तान में नैटो के लिए सलाहकार के रूप में काम कर चुके ब्रिटेन के एक जनरल ने कहा कि लोगों को कार्टर के चिकने-चुपड़े शब्दों के धोखे में नही आना चाहिए।

इस ब्रिटश जनरल का कहना था कि तालेबान ने बलपूर्वक अफ़ग़ानिस्तान की सत्ता हथिया ली और अब वे इस बात की प्रतीक्षा कर रहे हैं कि विश्व समुदाय उनको मान्यता देदे तो यह कैसे संभव है? उनका कहना था कि इस बात का कोई भी प्रमाण नहीं मौजूद है कि तालेबान बदल चुके हैं।  दूसरी ओर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि जरूरत पड़ने पर ब्रिटेन, तालिबान के साथ भी काम करने को तैयार है। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*