?>

ज़ायोनी सैनिकों ने मस्जिदुल अक़सा का घेराव कर लिया, बैतुल मुक़द्दस में झड़पें जारी

ज़ायोनी सैनिकों ने मस्जिदुल अक़सा का घेराव कर लिया, बैतुल मुक़द्दस में झड़पें जारी

इस्राईली सैनिकों ने एक बार फिर मस्जिदुल अक़सा के प्रांगणों में मौजूद, फ़िलिस्तीनी नमाज़ियों पर हमला करके सैकड़ों फ़िलिस्तीनियों को घायल कर दिया।

सोमवार की सुबह से ही मस्जिदुल अक़सा के विभिन्न प्रांगण, ज़ायोनी आतंकवाद के निशाने पर हैं और ज़ायोनी सैनिकों और फ़िलस्तीनी प्रदर्शनकारियों के बीच भीषण झड़पें जारी हैं। स्थानीय सूत्रों का कहना है कि मस्जिदुल अक़सा का अनादर रोकने के लिए फ़िलिस्तीनी नागिरक मस्जिद के प्रांगणों में इकट्ठा हो गए हैं। फ़िलिस्तीनियों ने घोषणा की है कि ज़ायोनी उन्हें रबर की गोलियों से निशाना बना रहे हैं और उनके ख़िलाफ़ आंसू गैस का इस्तेमाल किया जा रहा है। ज़ायोनी सैनिकों ने मस्जिद का पूर्ण रूप से घेराव कर रखा है।

रविवार की रात को भी ज़ायोनी सैनिकों ने पूर्वी बैतुल मुक़द्दस के शेख़ जर्राह इलाक़े में फ़िलिस्तीनियों पर हमला करके 14 लोगों को घायल कर दिया था। अवैध अधिकृत बैतुल मुक़द्दस के कई इलाक़ों में ज़ायोनी सैनिकों और फ़िलिस्तीनियों के बीच झपड़ों के समाचार हैं। शनिवार की रात इन झड़पों में 90 फ़िलिस्तीनी घायल हुए थे। इस बीच, ज़ायोनी अत्याचारों पर रोकथाम के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक के आयोजन की अपील की गई है। यूरोपीय संघ के अधिकारियों ने भी इस्राईली अधिकारियों से मांग की है कि बैतुल मुक़द्दस में तनाव करने के लिए ज़रूरी क़दम उठाए। पोप फ़्रांसिस ने भी इन हिंसक कार्यवाहियों और झड़पों को रोकने की मांग की है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*