?>

घातक बीमारियां आसान इलाजः रोमैटिज़्म या गठिया की कई दवाएं हैं, पहली दवा है अंजीर और मेथी का उबला हुआ पानी..

 घातक बीमारियां आसान इलाजः रोमैटिज़्म या गठिया की कई दवाएं हैं, पहली दवा है अंजीर और मेथी का उबला हुआ पानी..

रोमाटिज़्म या गठिया के रोग की कई दवाएं हैं जो तिब्बे इस्लामी में मौजूद हैं जबकि अन्य उपचार विधियों में शायद इतनी अच्छी दवाएं न हों। इन दवाओं का असर बहुत ज़्यादा है। पहली दवा है अंजीर और मेथी का उबला हुआ पानी।

दो मुट्टी अंजीरं और एक मुट्ठी मेथी को उबाल लिया जाए। फिर उस पानी को छान लिया जाए। यह पानी पिएं एक दिन के गैप से। यानी एक दिन अंजीर और मेथी का पकाया हुआ पानी पिएं और एक दिन न पिएं। एक छोटी पतीली में यह पानी बनाएं और उसे पिएं। अगले दिन न पिएं। यह कुछ दिन तक करें।

गठिया की एक और बहुत अच्छी दवा है दारूए तुरैफ़िल। यह दवा तैयार हालत में मिलती है इसे प्रयोग कर सकते हैं। इसके अलावा भी कुछ दवाएं हैं। एक तो शैतरज वनस्पिति है। एक दवा भी है जो शैतरज के साथ ही कुछ अन्य चीज़ों को मिला कर बनती है। इसे अंग्रेज़ी में Devilish   कहते हैं। एक और दवा है मुरक्कबे यके मफ़ासिल। यह इस्लामी तिब की बहुत अच्छा दवा है। यह घुटने के दर्द जोड़ों के दर्द के लिए बहुत अधिक लाभदायक है। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*