?>

क्या आप जानते हैं इस्राईली एयरपोर्ट के जीपीएस सिस्टम में गड़बड़ी का आरोप किस पर है?

क्या आप जानते हैं इस्राईली एयरपोर्ट के जीपीएस सिस्टम में गड़बड़ी का आरोप किस पर है?

इस्राईल के सबसे बड़े एयरपोर्ट बेन गूरियन का जीपीएस सिस्टम गड़बड़ा गया है, जिसके बाद इस्राईली मीडिया में क़यास लगाया जा रहा है कि इस गड़बड़ी के पीछे रूस का हाथ हो सकता है।

रूस ने इस तरह के आरोपों को फ़ेक न्यूज़ बताकर ख़ारिज कर दिया है।

ग़ौरतलब है कि बुधवार को इस्राईल के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे बेन गूरियन पर पायलटों को उड़ानों की लैंडिंग और टेक ऑफ़ में दिक्क़त पेश आ रही थी, इसलिए कि इस हवाई अड्डे के ग्लोबल पोज़िशनिंग सिस्टम (जीपीएस) काम नहीं कर रहा था, जिसके बाद एक पुराने सिस्टम आईएलएस के सहारे विमानों के संचालन का प्रबंधन किया गया।

हालांकि इस्राईली एयरपोर्ट के अधिकारियों ने जीपीएस सिस्टम में ख़राबी के लिए किसी आरोपी को अभी तक ज़िम्मेदार नहीं ठहराया है, लेकिन इसके बावजूद इस्राईली मीडिया ने रूस को इसके लिए ज़िम्मेदार क़रार दे दिया।

हारेट्ज़ की रिपोर्ट के मुताबिक़, एक वरिष्ठ इस्राईली सैन्य अधिकारी ने इस्राईली डिफेंस फ़ोर्सेज के रेडियो को नाम ज़ाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया कि बेन गूरियन एयरपोर्ट पर जारी सिस्टम की ख़राबी के लिए रूस ज़िम्मेदार है।

इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इस ख़राबी का कारण  सीरिया स्थित ख़मीमिम एयरबेस की इलेक्ट्रॉनिक युद्ध प्रणाली है, जो बेन गूरियन के उत्तर में लगभग 350 किमी की दूरी पर स्थित है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*