?>

कोरोना के ख़िलाफ़ हिंदुत्वा की अनोखी लड़ाईः मुसलमानों पर हमला करो!

कोरोना के ख़िलाफ़ हिंदुत्वा की अनोखी लड़ाईः मुसलमानों पर हमला करो!

हाफ़िज़ मुहम्मद नसीरुद्दीन बताते हैं कि पुलिस अफ़सर ने उन्हें रोका और गालियां देकर कहने लगा कि तुम लोग देश में कोरोना वायरस फैला रहे हो। 44 साल के नसीरुद्दीन को पुलिस अफ़सर ने बुरी तरह पीटा, वह ज़मीन पर गिर पड़े और लगभग एक घंटे तक पड़े रहे।

नसीरुद्दीन चूंकि मस्जिद के इमाम हैं इसलिए लंबी दाढ़ी रखते हैं और टोपी भी लगाते हैं। यह घटना कर्नाटक के बीदर ज़िले के हम्नाबाद की है। नसीरुद्दीन की शिकायत पर पुलिस अफ़सर को सस्पेंड कर दिया गया है और जांच शुरू हो गई है।

इस तरह की हिंसा का शिकार बनने वाले नसीरुद्दीन अकेले नहीं हैं। नई दिल्ली में वालंटियर्ज़ को पुलिस धमका रही है जो मुस्लिम इलाक़ों में लोगों की मदद कर रहे हैं। पंजाब में एक मुसलमान दूध वाले को गांव के लोगों ने धमकाया, पुलिस ने मुसलमानों के घरों पर छापे मारे।

मुसलमानों को निशाना बनाने की घटनाएं और उनके ख़िलाफ़ नफ़रत फैलाने का मुद्दा इतना आगे बढ़ चुका है कि इसके चलते संयुक्त अरब इमारात, क़तर और ओमान जैसे देशों से भारत के कूटनैतिक संबंधों पर भी असर पड़ने लगा है।

मुस्लिम बाहुल्य इलाक़ा कश्मीर महीनों से लाक डाउन का दंश झेल रहा है। असम में मुसलमानों की बड़ी आबादी है और उन पर लगातार हमले हो रहे हैं।

इस समय जब कोरोना वायरस फैला हुआ है और भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में फैला है और हर देश इससे लड़ने की कोशिश कर रहा है तो भारत की सत्ताधारी पार्टी और गोदी मीडिया यह अफ़वाह फैलाने में व्यस्त है कि भारत में कोरोना वायरस तबलीग़ी जमाअत के लोगों की वजह से फैल रहा है।

13 से 15 मार्च के बीच दिल्ली में तबलीग़ी जमाअत का जलसा हुआ। इसमें भाग लेने के लिए भारत के कोने कोने से और कुछ अन्य देशों से लोग दिल्ली पहुंचे जहां तबलीग़ी जमाअत का केन्द्र है।

अधिकारी और मीडिया यह दावा कर रहे हैं कि इस जलसे में भाग लेने वालों और उनके रिश्तेदारों में 4291 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं और उन पर आरोप लगाया जा रहा है कि वही महामारी फैला रहे हैं।

भाजपा के कुछ नेता तो इसे आतंकवाद का नाम भी दे रहे हैं। भाजपा की इनफ़ार्मेशन एंड टेक्नालोजी युनिट के प्रमुख अमित मालवीय ने जलसे को इस्लामी हमले का नाम दिया, भाजपा विधायक संगीत सोम ने कहा कि यह कोरोना आतंकवाद है। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख़तार अब्बास नक़वी ने कहा कि यह तालेबानी आतंकवाद है।

इनपुट्सः सीएनएन से भी


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*