?>

कार्टूनः आरामको हमले का मुद्दा, तीन यूरोपीय देशों ने ईरान के ख़िलाफ़ बयान क्यों जारी किया? क्या यूरोपीय देश भी सऊदी अरब का दोहन

कार्टूनः आरामको हमले का मुद्दा, तीन यूरोपीय देशों ने ईरान के ख़िलाफ़ बयान क्यों जारी किया? क्या यूरोपीय देश भी सऊदी अरब का दोहन

सऊदी अरब की तेल कंपनी आरामको के प्रतिष्ठानों पर यमन के हमले के बाद सऊदी अरब की इतनी बुरी हालत हो गई है कि वह हर किसी से हमदर्दी पाने की चाहत रखता है। सऊदी अधिकारियों की इस भावना को देखते हुए तीन यूरोपीय देशों ब्रिटेन, फ़्रांस और जर्मनी ने सऊदी अरब को दूहने का मौक़ा ख़ूब भुनाया और ईरान के ख़िलाफ़ एक बेबुनियाद बयान दाग़ दिया।

तो सऊदी अरब को अमरीका और यूरोप दोनों ही दूह रहे हैं लेकिन यूरोप का अंदाज़ ज़रा अलग है!


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*