?>

कश्मीर पर समर्थन मांगने की कीमत... पाकिस्तान ने दिया सऊदी अरब को एक अरब डॉलर, चीन मदद को आगे आया...

कश्मीर पर समर्थन मांगने की कीमत... पाकिस्तान ने दिया सऊदी अरब को एक अरब डॉलर, चीन मदद को आगे आया...

पाकिस्तान ने सऊदी अरब को एक अरब डॉलर वापस कर दिया।

पाकिस्तान ने सऊदी अरब को एक अरब डॉलर का क़र्ज वापस करने के साथ ही चीन से कर्ज़ा मांगा है ताकि अगले महीने सऊदी अरब को फिर से एक अरब डॉलर का कर्ज़ा वापस कर सके।

विश्लेषकों का कहना है कि यह बेहद असाधारण बात है कि सऊदी अरब पाकिस्तान से क़र्ज़ा वापस मांगने का आग्रह कर रहा है क्योंकि दोनों देशों में बहुत पुरानी दोस्ती है।

पाकिस्तान के वित्तमंत्रालय के एक अधिकारी ने रायटर्ज को बताया है कि पाकिस्तान का केन्द्रीय बैंक चीनी बैंकों से बातचीत कर रहा है जबकि विदेशमंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया है कि चीन ने पाकिस्तान की मदद की है।

पाकिस्तानी अधिकारी ने बताय है कि हमने एक अरब डॉलर सऊदी अरब को वापस कर दिया है जबकि अगले महीने एक अरब डॉलर और दिये जाएंगे जबकि इस से पहले भी पाकिस्तान सऊदी अरब को एक अरब डॉलर दे चुका है इस तरह से अगले महीने सऊदी अरब का तीन अरब डॉलर का क़र्ज खत्म हो जाएगा।

सऊदी अरब का क़र्जा अदा करने के बाद पाकिस्तान आर्थिक संकट में फंस जाएगा क्योंकि उसकी विदेशी मुद्रा भंडार भी मात्र 13.3 अरब डॉलर ही है।

सऊदी अरब ने सन 2018 में पाकिस्तान को 3 अरब डॉलर का क़र्ज़ा दिया था और इसके अलावा तेल खरीदने के लिए 3.2 अरब डॉलर की सुविधा दी थी लेकिन जैसे ही इस्लामाबाद ने कश्मीर में मानवाधिकारों के हनन के लिए सऊदी अरब का समर्थन मांगा, सऊदी अरब ने पाकिस्तान पर क़र्ज़ा वापस करने के लिए दबाव शुरु कर दिया।

पाकिस्तान और सऊदी अरब के बीच बढ़ते तनाव को कम करने के लिए पाकिस्तानी सेना प्रमुख क़मर जावेद बाजवा ने अगस्त के महीने में सऊदी अरब की यात्रा भी की थी।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*