?>

एमएसपी की गारेंटी के बिना नहीं रुकेगा किसान आन्दोलनः योगेंद्र यादव

एमएसपी की गारेंटी के बिना नहीं रुकेगा किसान आन्दोलनः योगेंद्र यादव

संयुक्त किसान मोर्चे की ओर से ऐलान किया गया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारेंटी के बिना किसान आन्दोलन समाप्त नहीं होगा।

एनडीटीवी के अनुसार संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य और किसान नेता योगेंद्र यादव ने शनिवार को कोर कमेटी की बैठक के बाद यह जानकारी दी।  उन्होंने कहा कि किसान, इस आन्दोलन के पहले दिन से ही न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी का मुद्दा उठाते रहे हैं।

 योगेंद्र यादव ने कहा कि 22 नवंबर को लखनऊ में किसानों की होने वाली किसान महापंचायत भी अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही आयोजित की जाएगी।  उन्होंने कहा कि यही नहीं, किसान 29 नवंबर को तय कार्यक्रम के मुताबिक, संसद मार्च की योजना को भी रद्द नहीं करेंगे।

योगेन्द्र यादव ने कहा कि फिलहाल सारे कार्यक्रम निर्धारित समय पर होंगे और जब संसद में कानून रद्द हो जाएंगे तो आगे का निर्णय़ लिया जाएगा।  संसद का शीतकालीन संत्र 29 नवंबर से शुरू हो रहा है।

योगेंद्र यादव ने कहा कि उन्हें याद नहीं आता कि पिछले 70 सालों में किसानों को इतनी बड़ी जीत कभी मिली हो।  उन्होंने कहा कि 7 साल में पहली बार केन्द्र सरकार को पहली बार कदम वापस लेना पड़ा है।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को गुरुपर्व के मौके पर तीनों कृषि कानून को वापस लेने का ऐलान किया था।  संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने इस फैसले का स्वागत करते हुए यह कहा है कि कृषि कानूनों की वापसी के फैसले पर मुहर लगने तक वे दिल्ली के बॉर्डर पर चल रहे अपने आंदोलन को खत्म नहीं करेंगे।

किसानों ने संकेत दिया है कि एमएसपी पर कानूनी गारंटी और बिजली संशोधन विधेयक जैसे मुद्दों पर उसका आंदोलन जारी रहेगा।  किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा था कि किसान लंबित मुद्दों पर सरकार से वार्ता को लेकर तैयार हैं।

उल्लेखनीय है कि संयुक्त किसान मोर्चा लगभग एक साल से तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहा है। 

इसी बीच विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार ने कृषि कानूनों की वापसी का कदम यूपी और पंजाब विधानसभा चुनाव में हार के डर से लिया है।  कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव सहित कई विपक्षी नेताओं ने इस मुद्दे को लेकर सरकार को घेरा है।

प्रियंका गांधी ने लखीमपुर खीरी कांड में घिरे केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग फिर उठाई है।  योगेन्द्र यादव ने भी कहा कि किसानों पर झूठे केस लादे गए और किसानों की कुचलने की घटना के बावजूद केंद्रीय मंत्री खुलेआम घूम रहे हैं।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*