ईरान के तेल उद्योग के ख़िलाफ़ अमरीकी पाबंदियां ‍और अगले 45 दिन की ख़तरनाक स्थिति के बारे में ब्रिटिश पेट्रोलियम की चेतावनी

ईरान के तेल उद्योग के ख़िलाफ़ अमरीकी पाबंदियां ‍और अगले 45 दिन की ख़तरनाक स्थिति के बारे में ब्रिटिश पेट्रोलियम की चेतावनी

ऐसे समय जब ईरान के ख़िलाफ़ अमरीका की ओर से फिर से पाबंदी लगाए जाने में कुछ ही हफ़्ते का वक़्त बचा है, दुनिया की बड़ी बड़ी तेल कंपनियां तेल की क़ीमतों के अभूतपूर्व स्तर तक बढ़ने की ओर से चिंतित हैं।

ब्रिटिश पेट्रोलियम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बॉब डडली के हवाले से मीडिया में बयान आया है कि आगामी अमरीकी पाबंदियों के मद्देनज़र ईरान के तेल उद्योग के भविष्य को घेरे हुए अनिश्चित्ता की स्थिति के नतीजे में तेल की क़ीमत अत्यधिक अस्थिर हो जाएगी।

डडली ने सीएनबीसी न्यूज़ नेटवर्क से इंटरव्यू में कहाः "मेरे विचार में 45 दिन बहुत ही अस्थिरता का माहौल होगा। बहुत बढ़ सकती है या फिर दूसरे मार्ग पर जा सकती है।"

ईरन के ख़िलाफ़ दूसरे चरण की पाबंदियां लगने की तारीख़ 4 नवंबर है जिसका लक्ष्य अमरीकी सरकार के दावे के अनुसार, ईरान के तेल के निर्यात को शून्य पर लाना है।

यह क़दम अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प के ईरान और गुट पांच धन एक के बीच हुए परमाणु समझौते जेसीपीओए से अपने देश को बाहर निकालने के फ़ैसले के बाद उठाया जा रहा है।

ट्रम्प द्वारा ईरान के ख़िलाफ़ पहले चरण के प्रतिबंध अगस्त से प्रभाव में आया जिसके तहत ईरान के वित्तीय, उड्डयन, धातु और वाहन क्षेत्र को निशाना बनाया गया।

अमरीका की ओर से पाबंदी लगने के मद्देनज़र, ईरान से तेल ख़रीदने वाले ग्राहक अमरीका से वेवर्ज़ हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं।

ब्रिटिश पेट्रोलियम के कार्यकारी अधिकारी की नज़र में अगर वेवर्ज़ मिलता है तो इससे तेल की क़ीमतें नीचे आ सकती हैं।

डडली ने कहाः "अगर दूसरों को वेवर्ज़ मिलता है, तेल के बड़े ख़रीदार देशों को, तो आप क़ीमत में गिरावट देख पाएंगे। फ़िलहाल बहुत ही अनिश्चित्ता की स्थिति है।"

कुछ टीकाकारों का मानना है कि बाज़ार में प्रतिदिन 15 लाख बैरल तेल की कमी होगी, जिसके नतीजे में तेल का मूल्य और ऊपर जा सकता है।

सीएनबीसी के अनुसर, बुधवार को कच्चे तेल ब्रेन्ट की भविष्य के लिए ख़रीदारी प्रति बैरल 84.96 डॉलर जबकि वेस्ट टेक्सस इंटरमीडिएट की ख़रीदारी 74.92 डॉलर प्रति बैरल रही। 


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*

*शहादत स्पेशल इश्यू*  शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी व अबू महदी अल-मुहंदिस
conference-abu-talib
We are All Zakzaky