?>

इस्राईल के एक जनरल की फ़िलिस्तीन के साथ सांठगांठ न करने की सलाह, ग़ज़्ज़ा और हिज़्बुल्लाह का मुक़ाबला करने में तेल अवीव को अक्षम बताया

इस्राईल के एक जनरल की फ़िलिस्तीन के साथ सांठगांठ न करने की सलाह, ग़ज़्ज़ा और हिज़्बुल्लाह का मुक़ाबला करने में तेल अवीव को अक्षम बताया

इस्राईल के एक सुरक्षा अधिकारी का कहना है कि तेल अवीव में ग़ज़्ज़ा और हिज़्बुल्लाह का मुक़ाबला करने की क्षमता नहीं है।

ज़ायोनी सेना के एक जनरल ने स्वतंत्र फ़िलिस्तीनी सरकार के गठन की स्थिति में ज़ायोनी मोर्चे के प्रतिरोध की पहुंच में होने का ज़िक्र करते हुए, ज़ायोनी शासन के नए मंत्रीमंडल पर, फ़िलिस्तीनियों से किसी भी तरह की सांठगांठ न करने पर बल दिया है। ज़ायोनी सेना की गुप्तचर इकाई के पूर्व प्रमुख  जनरल आहारून लिब्रान ने एक लेख में जो अख़बार "यिस्राईल ह्यूम" में छपा है, ग़ज़्ज़ा में फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध के साथ ताज़ा जंग से ज़ायोनियों के पाठ लेने पर बल देते हुए लिखा हैं कि फ़िलिस्तीनियों-इस्राईलियों के बीच सांठगांठ का विचार बहुत ख़तरनाक है, हमें इस विचार को भूल जाना चाहिए।

इस ज़ायोनी जनरल ने कहा कि ग़ज़्ज़ा की हालिया जंग से सबसे अहम पाठ जो लेना चाहिए वह राजनैतिक सुरक्षा के बारे में है। इस अर्थ में कि फ़िलिस्तीनियों और इस्राईलियों के बीच सांठगांठ नहीं हो सकती। एक स्वाधीन फ़िलिस्तीनी सरकार की स्थापना का विचार इस्राईलियों के लिए बहुत ख़तरनाक है और इससे पहले 2014 की लड़ाई में यह बात साबित हो चुकी है कि फ़िलिस्तीनियों के साथ मतभेदों के हल के विचार को भूल जाना चाहिए।

आहारून लिब्रान ने लिखा है कि आप एक स्वाधीन फ़िलिस्तीनी देश की कल्पना काजिए जो पूरे वेस्ट बैंक पर आधारित है। इस हालत में 4360 मीज़ाईल, इस्राईल के बड़े शहरों, लोगों के इकट्ठा होने की जगहों और अल-जलील तथा क़ुद्स में तटवर्ती पट्टी में इस्राईली प्रतिष्ठानों पर फ़ायर होंगे। उन्होंने कहा कि मुमकिन है इस्राईली प्रतिष्ठानों पर मीज़ाईल फ़ायर हों और रेल सहित परिवहन के सभी साधन और ईस्राईलियों की ज़िन्दगी की प्रक्रिया ठप्प पड़ जाए। जिसका मतलब हुआ ऐसे हालात की कल्पना करना इस्राईलियों के लिए बहुत सख़्त है, लेकिन इस तरह की घटनाएं वास्तव में हो सकती हैं और कोई भी इसकी गारंटी नहीं दे सकता।

ज़ायोनी सेना की गुप्तचर इकाई के पूर्व प्रमुख जनरल आहारून लिब्रान ने कहा है कि ग़ज़्ज़ा की जंग से साबित हो गया कि इस्राईली फ़ौज और आयरन डोम, फ़िलिस्तीनियों के हज़ारों मीज़ाईलों का मुक़ाबला नहीं कर सके। इस ज़ायोनी जनरल ने कहा कि ग़ज़्ज़ा और वेस्ट बैंक के इलाक़ों से हज़ारों मीज़ाईल फ़ायर होने की कल्पना के साथ अगर हिज़्बुल्लाह भी इस जंग में शामिल हो जाए और दसियों हज़ार मीज़ाईल इस्राईल के भीतर मारे जाएं, तो इसका मतलब यह है कि इस्राईल को फिर अशांति का सामना होगा।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*