?>

इराक में अमरीकी हस्तक्षेप पर इस देश की सरकार की ढीली प्रतिक्रिया से राजनैतिक दल नाराज़

इराक में अमरीकी हस्तक्षेप पर इस देश की सरकार की ढीली प्रतिक्रिया से राजनैतिक दल नाराज़

इराक़ के असाएबे अहले हक़ आन्दोलन ने अमरीकी हस्तक्षेप के मुक़ाबले में इराक़ी सरकार के रवैये की निंदा की है।

असाएबे अहले हक़ आन्दोलन की राजनीतिक शाखा के प्रभारी महमूद अर्रबीई ने मंगलवार को कहा कि ईरान के आंतरिक मामलों में अमरीकी हस्तक्षेप और उल्लंघनों के संबन्ध में इराक़ी सरकार की प्रतिक्रिया बहुत ही कमज़ोर है।  उन्होंने कहा कि इराक़ में अपनी सैन्य उपस्थिति को बढ़ाने के लिए अमरीका लगातार प्रयास कर रहा है।

अर्रबीई ने कहा कि इराक़ के भीतर इस देश की जनता और नेताओं पर अत्याचारों के मुक़ाबले में इराक़ी सरकार की ओर से अपनाई गई नीति बिल्कुल बेकार है।  उन्होंने कहा कि इराक़ के राजनैतिक दलों ने देश की सरकार से यह मांग बारंबार दोहराई है कि अमरीकी क्रियाकलापों पर तीखी प्रतिक्रिया दिखाए।  अर्रबीई के अनुसार इराक़ की सरकार एक प्रकार से अपने देश में बारे में अमरीका की ओर से की जाने वाली कार्यवाहियों से राज़ी है।

याद रहे कि संयुक्त राज्य अमरीका और इराक़ ने अप्रैल के महीने में यह समझौता किया कि इराक़ में अमरीकी उपस्थिति केवल सैन्य प्रशिक्षण के रूप में है।


अपना कमेंट भेजें

आपका ईमेल शो नहीं किया जायेगा. आवश्यक फ़ील्ड पर * का निशान लगा है

*